Home » इंडिया » on the kairana issue bhagwat pas the statement
 

कैराना मामले पर बोले मोहन भागवत, पलायन की खबरें दुखदायी

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 June 2016, 12:43 IST
(पीटीआई)

उत्तर प्रदेश के कैराना में हिन्दुओं के कथित पलायन को लेकर चल रहे विवाद पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने भी टिप्पणी की है. पलायन की कथित घटनाओं पर मोहन भागवत ने कहा, "आज के समय में विस्थापन की खबरें दुखदायी और परेशान करने वाली हैं."

साथ ही आरएसएस प्रमुख ने कहा, "देश के कई हिस्सों से इस तरह के पलायन की आ रही खबरें बेहद दुखदायी और परेशान करने वाली हैं.

यह हम सबकी जिम्मेदारी है कि हम इस तरह के लोगों के दिल से निराशावाद दूर कर कर उनमें यह भावना भरे कि यह देश हमारा है, यह जमीं हमारी है, हमें कोई पलायन के लिए मजबूर नहीं कर सकता."  

जोधपुर के कार्यक्रम में बयान

आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत ने यह बातें ‘हिन्दू साम्राज्य दिवस’ के मौके पर जोधपुर के लाल सागर के आदर्श विद्या मंदिर में स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए कहीं.

यह कार्यक्रम मराठा शासक छत्रपति शिवाजी के राज्याभिषेक के 342 साल पूरे होने पर मनाया जाता है.   संघ प्रमुख ने कहा कि शिवाजी के समय भी ऐसी ही स्थिति थी, लेकिन उन्होंने हिन्दुओं को एकजुट किया और उनमें राष्ट्रीयता एवं बलिदान की भावना भरी.

मोहन भागवत ने स्वयंसेवकों से कहा कि हमें अपने जीवन में शिवाजी का अनुकरण करने की आवश्यकता है और संघ ऐसा ही कर रहा है.

First published: 20 June 2016, 12:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी