Home » इंडिया » Onion Price Modi cabinet approval to import 1.2 lakh tons onions for reduce it's price
 

प्याज के दाम कम करने के लिए केंद्र सरकार की अहम पहल, 1.2 लाख टन प्याज आयात को दी मंजूरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 November 2019, 8:49 IST

प्याज की कीमत को काबू में करने के लिये केंद्र की मोदी सरकार ने अहम फैसला लिया है. दरअसल, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने प्याज के आयात को लेकर मंजूर दे दी है. बुधवार को पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में एक लाख 20 लाख टन प्याज के आयात के सरकार के फैसले को मंजूरी दे दी. मंत्रिमंडल की बैठक में लिए गए फैसलों की मीडियो को जानकारी देते हुए केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि 1.2 लाख टन प्याज आयात को मंत्रिमंडल ने मंजूरी दे दी है.

बता दें कि पिछले कुछ समय से देशभर में प्याज की कीमत में बेतहाशा वृद्धि हुई है. जो 100 रुपये से भी ऊपर निकल गई. अभी भी खुदरा बाजार में प्याज के दाम 80-90 रुपये प्रति किलोग्राम हैं. जिन्हें कम करने के लिए केंद्र सरकार लगातार कोशिश कर रही है. 1.2 लाख टन प्याज का निर्यात होने से प्याज की कीमत में कटौती की उम्मीद की जा रही है.

बता दें कि इस साल मानसून सीजन के आखिर में देशभर के कई इलाकों में हुई भारी बारिश के चलते प्याज की फसल को भारी नुकसान हुआ और अन्य सालों की तुलना में इस साल प्याज के दाम इन दिनों काफी बढ़ गए. राजधानी दिल्ली में बुधवार को प्याज के थोक भाव में 10 से 15 रुपये प्रति किलो तक बढ़ोतरी दर्ज की गई.

प्याज की कीमतों को कम करने के लिए केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान ने इसी महीने देश में प्याज की उपलब्धता बढ़ाकर इसकी कीमतों को काबू में रखने के मकसद से एक लाख टन प्याज का आयात करने की घोषणा की थी.

इसके अलावा विदेश व्यापार करने वाली केंद्र सरकार की कंपनी एमएमटीसी 4,000 टन प्याज का आयात करने के लिए टेंडर भी जारी कर चुकी है. बता दें कि खुदरा दामों के अलावा प्याज के दाम थोक में भी आसमान छू रहे हैं. बुधवार को दिल्ली में प्याज के दाम थोक में 40 से 60 रुपये के बीच रहे. वहीं दिल्ली में खुदरा बाजार में ये दाम 60-80 रुपये प्रति किलोग्राम था.

ये भी पढ़ें-

संसद में गृह मंत्री का बयान- 4 अगस्त के बाद से कश्मीर में गिरफ्तार किये गए 5000 से ज्यादा लोग

RBI का खुलासा- PMC बैंक के कर्मचारी HDIL के खातों को छिपाने के लिए करते थे कोड का इस्तेमाल

8 साल देश सेवा करने के बाद CISF से सैनिक की तरह विदा हुए ये सात कुत्ते

First published: 21 November 2019, 8:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी