Home » इंडिया » Orphan brother-sister found Rs. 96,500 of old currency in their home, wrote letter to PM Modi for FD of this money
 

अनाथ बच्चों के घर में मिले 96 हजार रुपये के पुराने नोट, पीएम मोदी से लगाई गुहार

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 March 2017, 13:45 IST

कभी-कभी ऐसा होता कि आपको एक साथ खुशी भी मिलती है और दुख भी. एक ऐसा ही वाक्या अब राजस्थान के कोटा में रहने वाले दो अनाथ बच्चों के साथ हुआ जब उन्हें घर में रखे 96 हजार रुपये के पुराने नोट मिले जो उनकी स्वर्गीय मां छोड़ कर चली गई थी. लेकिन अब बेकार हो चुके इन नोटों को बदलवाने के लिए बच्चों ने पीएम मोदी से गुहार लगाई है.

दरअसल मामला कोटा का है जहां सूरज व सलोनी नाम के भाई-बहन की मां पूजा बंजारा की 2013 में हत्या कर दी गई थी, वो दिहाड़ी मजदूर थी. जबकि उनके पिता की काफी पहले मौत हो चुकी थी. इसके बाद दोनों अनाथ बच्चों को बाल कल्याण समिति द्वारा रंगबाड़ी स्थित आश्रयस्थल में जीवन-यापन के लिए रख दिया गया.

बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष हरीश गुरुबक्शानी के मुताबिक दोनों बच्चे आश्रयस्थल में रह कर गुजारा कर रहे हैं. आरके पुरम और सरवाडा गांव में उनके मकान पर ताला लगा हुआ था. लेकिन कुछ वक्त पहले जब समिति द्वारा दिए गए आदेश के बाद पुलिस ने जब गांव में उनके मकान का सर्वे किया तो पता चला कि वहां पर कुछ जेवरों के अलावा पुराने और बंद हो चुके 1000-500 के नोटों में 96,500 रुपये मिले.

 

सूरज-सलोनी ने इसके बाद ऑनलाइन परिवेदना दर्ज कराई जिसमें उनके मामले को विशेष मानते हुए पुराने नोट बदलने की अपील की है. दोनों ने लिखा कि उनके मकान पर ताला लगा था. मकान की चाबी पुलिस के पास थी. अगर सरकार यह रकम बदल दे तो भविष्य में पढ़ाई और अन्य में यह काम आ सकता है.

इसके अलावा पूर्व मंत्री शांति धारीवाल ने भी प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर बच्चों की रकम को सुरक्षित करने की मांग की है. अपने पत्र में उन्होंने लिखा कि समिति के आदेश पर पुलिस द्वारा गांव के पुश्तैनी मकान में मिली रकम से दोनों बच्चों का भविष्य कुछ हद तक संवर सकता है. इसलिए इन पुराने नोटों को नोटबंदी के वक्त निकलने के बाद भी विशेष मामला मानकर बदल दिया जाए.

 

उन्होंने पीएम मोदी से अपील की है कि बच्चों के सिर से मां-बाप का साया उठ चुका है और नोटबंदी के दौरान दोनों बच्चे एक संस्था में रह रहे थे.

इतना ही नहीं कोटा दक्षिण के विधायक संदीप शर्मा ने भी प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर पुराने नोट बदलने की व्यवस्था कराने का अनुरोध किया है. उन्होंने लिखा कि बच्चों के भविष्य के लिए पुराने नोटों को बदलना जरूरी है.

First published: 26 March 2017, 13:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी