Home » इंडिया » Over half of Bihar board class X students fail
 

बिहार: 10वीं बोर्ड परीक्षा में आधे से ज्यादा छात्र फेल

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:50 IST

पिछले साल की तुलना में बिहार में दसवीं बोर्ड के नतीजे अप्रत्याशित रहे हैं. रविवार को बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (बीएसईबी) ने बोर्ड के नतीजे घोषित किए, जिसमें महज 46.66 फीसदी छात्र ही पास हो सके हैं.

इस साल बोर्ड परीक्षा में 15.47 लाख बच्चे शामिल हुए थे. 483 अंकों के साथ बबिता कुमारी ने 10वीं की परीक्षा में टॉप किया है. बबिता सिमुलतला आवासी विद्यालय की छात्रा हैं. पिछले साल बोर्ड परीक्षा में 75.17 फीसदी छात्र सफल रहे थे.

इस बार 10.86 फीसदी बच्चे ही फर्स्ट डिवीजन से पास हुए हैं, जिनमें 7.16 फीसदी छात्राएं हैं. पिछले साल 21.45 फीसदी छात्र फर्स्ट डिवीजन से पास हुए थे. वहीं इस साल 25.46 फीसदी छात्र सेकेंड डिवीजन से पास हुए हैं.

राज्य के शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने कहा, "ऐसे नतीजे का अनुमान नहीं था, लेकिन इस रिजल्ट से छात्रों की असल प्रतिभा सामने आई है. इस रिजल्ट में जो पास हुए हैं वे प्रतियोगी परीक्षाओं में भी सफल होंगे."

शिक्षा मंत्री ने कहा कि राज्‍य की स्‍कूली शिक्षा को सुधारने के लिए सरकार बड़ा बदलाव करने पर विचार कर रही है. उन्होंने बताया कि मैट्रिक की परीक्षा में तीन विषय में फेल छात्र कंपार्टमेंटल परीक्षा में शामिल हो सकते हैं. यह परीक्षाएं अगस्‍त में होंगी‍, जिसके नतीजे सितंबर में घोषित कर दिए जाएंगे.

First published: 30 May 2016, 2:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी