Home » इंडिया » owaisi: after muzaffarnagar right, bjp can inquery to muslim migration
 

कैराना पर बोले ओवैसी, मुजफ्फरनगर दंगों के बाद मुसलमानों के पलायन की जांच भी कराएगी बीजेपी?

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 June 2016, 13:52 IST
(पीटीआई)

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार को कैराना हिंदू पलायन के विवाद पर बीजेपी को घेरते हुए कहा कि 'क्या बीजेपी साल 2013 के मुजफ्फरनगर दंगों के बाद 50,000 मुसलमानों के पलायन की भी जांच कराएगी.'

मुजफ्फरनगर दंगों में मुसलमानों के पलायन करने का दावा करने वाले ओवैसी ने कहा कि 'क्या बीजेपी मुजफ्फरनगर में भी एक जांच टीम भेजेगी, जैसा कि इसने हिंदुओं के कथित पलायन के मुद्दे पर कैराना भेजी है.

इसके साथ ही ओवैसी ने कैराना से कथित तौर पर पलायन करने वाले 346 परिवारों की बीजेपी वाली सूची को भी ‘फर्जी’ करार दिया.

उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर नाटक करना बीजेपी और सत्ताधारी सपा, दोनों के हितों के अनुकूल बैठता है.

ओवैसी ने दावा किया कि मुजफ्फरनगर दंगों के बाद 50,000 से अधिक मुस्लिम लोगों को अपना वह स्थान छोड़ना पड़ा, जहां वे पीढ़ियों से रहते आ रहे थे.

उन्होंने इसे देश की आजादी के बाद अल्पसंख्यकों को सामूहिक रूप से हटाने की सबसे बड़ी घटना बताया. हैदराबाद के सांसद ने कहा कि, ‘क्या भाजपा एक ऐसी ही जांच टीम मुजफ्फरनगर भेजेगी? जहां दंगों के बाद हताहत हुए 50,000 लोगों के साथ क्या-क्या हुआ यह पता लगाया जा सके?’.

ओवैसी ने दावा किया कि केंद्र की मोदी सरकार और बीजेपी के पास कोई और मुद्दा बचा नहीं है और कैराना का मुद्दा उछाल कर बीजेपी ने अपने चेहरे से नकाब को उतार दिया है. जो सबका साथ सबका विकास की बात करती है.

उन्होंने कहा कि कैराना मुद्दा बीजेपी और और सपा दोनों के लिए फिट बैठता है, क्योकि इससे बीजेपी बहुसंख्यक समुदाय को डराना चाहती चाहती है.

वहीं, प्रदेश की सपा सरकार भी मुसलमानों को यह संदेश देना चाहती है कि यदि आप आने वाले चुनाव में सपा को नहीं चुनते हैं तो आप सुरक्षित नहीं हैं.

First published: 19 June 2016, 13:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी