Home » इंडिया » P Chidambaram says boycotting Chinese goods will not hurt the China's economy
 

भारत-चीन विवाद: कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने चीनी सामानों के बहिष्कार को लेकर कह दिया ऐसा

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 June 2020, 17:57 IST

India-China Face Off: चीनी सेना से झड़प में 20 भारतीय सैनिकों की शहादत के बाद देशभर में चीन के उत्पादों को बहिष्कार करने की मुहिम चलाई जा रही है. इस बीच देश के पूर्व वित्त मंत्री तथा कांग्रेस के सीनियर नेता पी चिदंबरम ने चीन के सामान के बहिष्कार को लेकर बड़ी बात कही है. पी चिदंबरम ने कहा है कि हमें जितनी जल्दी हो सके आत्मनिर्भर बनना होगा.

पी चीदंबरम ने कहा कि हम बाकी दुनिया से रिश्ते खत्म नहीं कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि भारत को चीनी सामान का बहिष्कार नहीं करना चाहिए. भारत को वैश्विक सप्लाई चैन का हिस्सा बने रहना होगा. चीन के साथ भारत के जो व्यापारिक रिश्ते हैं, वह चीन के वैश्विक व्यापार का हिस्सा है. 

पी चिदंबरम ने इसके आगे कहा कि चीनी सामानों का बहिष्कार करने से चीन को कोई आर्थिक नुकसान नहीं पहुंचेगा. उन्होंने कहा कि जब सुरक्षा जैसे अहम मुद्दों की बात आए तो इसमें बहिष्कार जैसी बातें होनी नहीं चाहिए. 

पी चिदंबरम ने पीएम मोदी द्वारा सर्वदलीय बैठक में कही गई बात पर भी सवाल खड़े किए. पीएम मोदी ने कहा था कि कोई भी भारतीय इलाके में नहीं घुसा नहीं है. इस पर चिदंबरम ने सवाल उठाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री और सेना प्रमुख, विदेश मंत्री तथा रक्षा मंत्री के बयानों में विरोधाभाष है.

इंडिया के 'बॉयकॉट चाइना' से घबराया चीन, पढ़िए सरकारी अख़बार ग्लोबल टाइम्स ने क्या लिखा

चिदंबरम ने सवाल किया कि चीन ने यदि सीमा पार नहीं किया था तो 5-6 मई को क्यों झड़प हुई थी. इसके अलावा 5-6 जून को कमांडरों की किस मुद्दे पर मीटिंग हुई थी. दूसरी तरफ आज फिर पीएमओ की तरफ से बयान में साफ किया गया कि चीन ने प्रयास तो किया था लेकिन सैनिकों ने बलिदान देकर ढांचागत निर्माण और अतिक्रमण की कोशिशों को नाकाम कर दिया था.

First published: 20 June 2020, 17:09 IST
 
अगली कहानी