Home » इंडिया » Pakistan activates terrorist camps at LOC for infiltrating 275 foreign terrorists
 

275 विदेशी आतंकियों को घुसपैठ कराने की फ़िराक में पाकिस्तान, एक्टिव किये LOC पर आतंकी शिविर

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 September 2019, 15:13 IST

पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) के साथ अपने आतंकी शिविरों और सात लॉन्च पैडों को फिर से सक्रिय कर दिया है. टाइम्स ऑफ़ इंडिया के अनुसार इस शिविरों के माध्यम से जम्मू-कश्मीर में लगभग 275 से ज्यादा आतंकवादियों को घुसपैठ कराने की तैयारी की जा रही है. रिपोर्ट के कहा गया है पाकिस्तान इन शिविरों से अफगान और पश्तून लड़ाकों को तैनात करना चाहता है. जम्मू कश्मीर में यह पहली बार नहीं है जब सीमा पार से अफगान और पश्तून जिहादियों को लाया जा रहा है.

पाकिस्तान ने पहली बार 1990 में कश्मीर में विदेशी भाड़े के सैनिकों का इस्तेमाल किया था. उसने घाटी में भारत के खिलाफ छद्म युद्ध के रूप में सीमा पार से आतंकवाद शुरू किया था. हालांकि विदेशी आतंकवादियों के खिलाफ भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा किए गए आक्रामक आतंकवाद विरोधी अभियानों के बाद पाकिस्तान ने पंजाब और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के ज्यादातर जातीय समुदायों से आतंकवादियों को भेजना शुरू कर दिया.

टीओआई के अनुसार आधिकारिक दस्तावेजों से पता चलता है कि पाकिस्तानी सेना और आईएसआई ने एलओसी के साथ लॉन्च पैड स्थापित किए हैं, जिसमें उत्तरी कश्मीर में गुरेज़ सेक्टर के माध्यम से घुसपैठ करने के लिए अधिकतम आतंकवादी तैयार हैं.

शीर्ष खुफिया सूत्रों ने कहा एलओसी के पार लगभग 80 आतंकवादी गुरेज़ के पास, मच्छल में 60, करनाह में 50, केरान में 40, उरी में 20, नौगाम में 15 और रामपुर में 10 घुसपैठ करने को तैयार हैं. डोनाल्ड ट्रम्प के राष्ट्रपति बनने के बाद से पाकिस्तान पर आतंकी समूहों पर नकेल कसने का भारी दबाव है. एफएटीएफ ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में डाल चुका है.

कश्मीर पर अमेरिकी मीडिया कर रहा है एकतरफा रिपोर्टिंग : भारतीय राजदूत

First published: 11 September 2019, 15:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी