Home » इंडिया » Pakistan Defends Confiscating Shoes Worn by Kulbhushan Jadhav's Wife, There Was Something in Them on December 25 meeting
 

कुलभूषण जाधव के परिवार से बदसलूकी पर पाक ने दी सफाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 December 2017, 11:13 IST

पाकिस्तान की जेल में जासूसी के आरोप में बंद पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव के साथ पाकिस्तान में बदसलूकी पर भारत के कड़े ऐतराज के बाद पाकिस्तान ने अपनी सफाई दी है. दरअसल 25 दिसंबर के दिन कुलभूषण के साथ उनकी मां और पत्नी ने मुलाकात की थी. 

इस्लामाबाद में विदेश मंत्रालय में कराई गई इस मुलाकात में कुलभूषण जाधव और उनके मां और पत्नी के बीच एक शीशे की दीवार बनाई गई थी. पाकिस्तान ने दावा किया था कि वो ये मुलाकात मानवीय आधार पर करा रहा है. विदेश मंत्रालय में उनके बीच करीब 45 मिनट तक मुलाकात हुई. इस मुलाकात के दौरान उन्हें मराठी नहीं बोलने दी गई. ये बातचीत इंटरकॉम से कराई गई. गौरतलब है कि पाकिस्तान में कुलभूषण जाधव को जासूसी के आरोप में फांसी की सजा सुनाई गई है.

इस मुलाकात के दौरान कुलभूषण जाधव के परिवार के साथ पाकिस्तान की बदसलूकी पर भारत के विदेश मंत्रालय ने कड़ा एेतराज जताया है. भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने मंगलवार को बयान जारी कर कहा है कि पूरा माहौल परिवार को डराने वाला था. पाकिस्तान में उनके कपड़े तक बदलवाए गए. भारत ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव की पत्नी के जूते तक वापस नहीं किए.  

भारत के इन आरोपों पर पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने सफाई दी है. पाक विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि जाधव की पत्नी के जूते सुरक्षा की वजह से ज़ब्त किए गए थे क्योंकि उनमें कुछ संदिग्ध चीज थी. पाकिस्तान ने भारत के आरोपों पर ये कहा कि पाकिस्तान भारत के साथ बेमतलब से शब्दों की जंग में नहीं पड़ना चाहता है.

पाकिस्तान ने भारत के विदेश मंत्रालय की आपत्ति पर कहा, अगर भारत की चिंताएं गंभीर थीं तो जाधव की मां-पत्नी या उप उच्चायुक्त उसे यात्रा के दौरान ही मीडिया के साथ उठाते जो वहीं मौजूद थी. पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता फ़ैसल मोहम्मद ने कहा कि जाधव की पत्नी के जूतों की जांच चल रही है.

पाकिस्तान से भारत वापस आने के बाद कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी ने मंगलवार को दिल्‍ली में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की. इसके बाद भारत के विदेश मंत्रालय ने कहा कि बैठक के बाद मिले फीडबैक से लगता है कि जाधव बहुत तनाव में थे और ज़ोर-जबरदस्ती के बीच बोल रहे थे.

First published: 27 December 2017, 11:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी