Home » इंडिया » Pakistan Hands Over Kirpal Singh Body But Heart Stomach Missing
 

गुरदासपुर में किरपाल सिंह का अंतिम संस्कार, दोबारा पोस्टमार्टम से उठे सवाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 April 2016, 17:30 IST

पाकिस्तान की जेल में भारतीय कैदी किरपाल सिंह की मौत पर सवाल उठ रहे हैं. पाकिस्तान ने मंगलवार को भारत को किरपाल का शव सौंप दिया, लेकिन भारत में किरपाल के दोबारा पोस्टमार्टम से चौंकाने वाली बात सामने आई है.

अमृतसर में शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर्स ने खुलासा किया कि किरपाल के शव से कुछ अंग गायब हैं. पाकिस्तान का कहना है कि हार्ट अटैक से लाहौर की कोट लखपत जेल में किरपाल की मौत हुई थी. 

किरपाल सिंह का दोबारा पोस्टमार्टम के बाद गुरदासपुर स्थित पैतृक गांव मुस्तफाबाद में अंतिम संस्कार कर दिया गया.

कैसे हुई किरपाल की मौत ?


अमृतसर के सरकारी मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर बी एस बल ने किरपाल सिंह के शव का दोबारा पोस्टमार्टम किया. डॉक्टर बल के मुताबिक किरपाल के कुछ अंग गायब थे. 

हालांकि शव पर किसी तरह की अंदरूनी या बाहरी चोट का निशान नहीं पाया गया है.

पढ़े:कैदी किरपाल सिंह की मौत का मुद्दा भारत ने उठाया

डॉक्टर बल का कहना है कि अब हम उनके कुछ अंगों के नमूने जांच के लिए अमृतसर से बाहर भेजेंगे, जिससे मौत से जु़ड़ी वजहों का पता चल सके. बल ने कहा कि पाकिस्तान ने अभी पोस्टमार्टम की रिपोर्ट नहीं भेजी है.

किरपाल सिंह की मौत के बाद उनका शव दस दिनों तक लाहौर के जिन्ना अस्पताल में पड़ा रहा था. मंगलवार सुबह डॉक्टरों की टीम ने शव का पोस्टमार्टम किया था. 

पढ़े:भारत को सौंपा गया किरपाल सिंह का शव

गौरतलब है कि किरपाल सिंह कथित तौर पर 1992 में सीमा पार करके पाकिस्तान चले गए थे. उन्हें फैसलाबाद सीरियल ब्लास्ट के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया. अदालत ने उन्हें मौत की सजा सुनाई थी.

हालांकि किरपाल सिंह को बम धमाकों के आरोप से लाहौर कोर्ट ने बरी कर दिया था, लेकिन उनकी मौत की सजा को अज्ञात वजहों से माफ नहीं किया गया.

First published: 20 April 2016, 17:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी