Home » इंडिया » Pakistan relocated terrorists at launch pads along the LOC to armycamps
 

पुलवामा हमले के बाद पाक को सर्जिकल स्ट्राइक से लगा डर, LOC से खाली कराए आतंकी ठिकाने

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 February 2019, 11:04 IST

पुलवामा में आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 से ज्यादा जवान शहीद हो गए. जवानों की शहादत के बाद भारत के लोगों में पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा है. हर कोई चाहता है कि हमारे जवानों की शहादत का बदला लिया जाए और एक बार फिर से सर्जिकल स्ट्राइक की जाए. ऐसे में पाकिस्तान को डर सताने लगा है कि अगर इंडियन आर्मी एक बार फिर से सर्जिकल स्ट्राइक करती है तो उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

इसी को देखते हुए पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा यानि LOC पर मौजूद आतंकियों के लांचपैड्स को हटाना शुरू कर दिया है. आतंकियों को लांचपैड्स के पास मौजूद सेना के कैंप में रखा जाएगा. वहीं मोदी सरकार का कहना है कि सैन्य बलों को सीआरपीएफ के काफिले पर हमला करने वाले आतंकी संगठन जैश--मोहम्मद के खिलाफ कार्रवाई करने की पूरी छूट है.

इसी के मद्देनजर पाकिस्तानी सेना ने कुछ पूर्व फैसले लिए हैं. इस समय दोनों तरफ की सीमाओं पर तनाव है. कश्मीर के उच्च खुफिया सूत्रों के मताबिक फ्रंटियर पर किसी तरह की आर्टिलरी मूवमेंट या तैनाती नहीं की जा रही.

 

सूत्रों का ये भी कहना है कि, "आज हमारे पास LOC पर हवाई हमला करने का कोई लक्ष्य नहीं बचा है. जहां आतंकी तैयार होते थे और उन्हें घुसपैठ करने के लिए भेजा जाता था.” इससे सेना के पास एक ही विकल्प बचता है कि वह है पाकिस्तानी सेना के ठिकानों को निशाना बनाए. ऐसा करने से तकरार की संभावनाएं और बढ़ सकती है.

खुफिया सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान आतंकी हमलों के जवाब में कार्रवाई होने की संभावनाओं को मान रहा है. शायद इसी वजह से उसने इस साल अपनी विंटर पोस्ट्स को खाली नहीं कराया है. सूत्रों ने बताया है कि, "लगभग 50-60 विंटर पोस्ट जिन्हें हर साल खाली करा लिया जाता था वहां फिलहाल पाकिस्तानी सैनिक तैनात हैं. जिनमें अतिरिक्त आतंकी लांचपैड्स हैं. फिलहाल हमें उनकी संख्या नहीं मालूम है.”

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान के आर्मी बेस हॉस्पिटल से अजहर ने उगला था भारत के खिलाफ जहर, पुलवामा अटैक का दिया था हुक्म

First published: 17 February 2019, 11:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी