Home » इंडिया » Pakistan secretly released Jaish Chief Masood Azhar from Jail IB alerted over troops deployment on india pak border
 

पाकिस्तान ने फिर की नापाक हरकत, आतंकी मसूद अजहर की जेल से की चुपके से रिहाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 September 2019, 10:11 IST

पाकिस्तान ने एक बार फिर साफ कर दिया है कि वह सुधरने वाला नहीं है और भारत पर हमले करने के लिए आतंकियों का सहारा लेता रहेगा. दरअसल, पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय आतंकी मसूद अजहर की पाक जेल से चुपचाप रिहाई कर दी है. जिसे भारत के खिलाफ किसी बड़े आतंकी हमले को अंजाम के तहत देखा जा रहा है. इसके बाद इंटेलिजेंस ब्यूरो ने सरकार को राजस्थान के पास भारत-पाकिस्तान सीमा पर तैनात पाक सैनिकों की टुकड़ी को लेकर अलर्ट किया है.

आईबी का कहना है कि पाकिस्तान भारत के खिलाफ कोई बड़ी साजिश रच रहा है और आतंकी गतिविधियों का संचालन करने के लिए उसने एक वांछित आतंकी को रिहा किया है. यह जानकारी मामले से परिचित दो अधिकारियों ने दी हैइंटेलिजेंस ब्यूरो के इनपुट के मुताबिक पाकिस्तान सियालकोट-जम्मू और राजस्थान के सेक्टर में आने वाले दिनों में कुछ बड़ा करने की योजना बना रहा है.

जिसकी वजह जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को निष्क्रिय करना है. इनपुट में चेतावनी दी गई है कि पाकिस्तान ने अपनी योजना को अंजाम देने के लिए राजस्थान सीमा पर अतिरिक्त सैनिकों की तैनाती की है. 

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इनपुट के बारे में सीमा सुरक्षा बल और जम्मू और राजस्थान में तैनात सेना की टुकड़ियों को बता दिया गया है. जिससे कि पाकिस्तानी सेना की किसी भी आश्चयर्जनक हरकत को नजरअंदाज न किया जा सके. इनपुट के मुताबिक, पाकिस्तान आने वाले दिनों में सियालकोट-जम्मू में भी बड़ी कार्रवाई कर सकता है. इंटेलिजेंस को ऐसी खबर मिली है कि आतंकी संगठन जैश--मोहम्मद सरगना भी अब रिहा कर दिया गया है और वह बड़ी आतंकवादी घटना को अंजाम देने की साजिश रच रहा है.

बता दें कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को ही धमकी देते हुए कहा था कि जम्मू-कश्मीर को लेकर भारत सरकार के कदम पर उसे जवाब दिया जाएगा. उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान युद्ध नहीं चाहता है, लेकिन दुश्मन को पूरी तरह से जवाब देने के लिए तैयार हैं.

स्विटजरलैंड ने जारी की काला धन रखने वालों की सूची, कार्रवाई के डर से कई खाते हुए खाली

पाकिस्तान अपने दुश्मन देश के साथ फिर से उसी तरह की स्थिति का सामना कर रहा है. दुश्मन देश नियंत्रण रेखा पर आक्रामकता दिखा रहा है और कश्मीर की स्थिति बदल रही हैबता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में इसी साल14 फरवरी को हुए आत्मघाती हमले के बाद ऐसी अघोषित रिपोर्टें थीं कि पाकिस्तानी एजेंसियों ने अजहर को हिरासत में लिया था.

First published: 9 September 2019, 10:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी