Home » इंडिया » Pakistan Zindabad slogans in Jammu and Kashmir Assembly by nc mla
 

शर्मनाक: आर्मी कैंप में हमले के बीच कश्मीर विधानसभा में लगे 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2018, 13:40 IST
(google)

आज जम्मू-कश्मीर में आर्मी कैंप में हुए आतंकी हमले के बाद जम्मू- कश्मीर विधानसभा में जोरदार नारेबाजी हुई. इस दौरान जहां बाकी विधायकों ने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए वहीं नेशनल कांफ्रेंस के विधायक अकबर लोन ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाकर देश विरोधी हरकत की. जिसके बाद विधानसभा में बवाल मच गया.

लोन ने मीडिया के सामने भी स्वीकारा कि उसने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए हैं. सदन में पाकिस्तान जिन्दाबाद के नारों पर अपनी सफाई में लोन ने कहा, मैं सबसे पहले एक मुसलमान हूं. मुझे बुरा लगा जब सदन में पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए गए.

उन्होंने कहा मैंने भी पाकिस्तान जिन्दाबाद के नारे लगा दिये. हालांकि उन्होंने सेना पर आतंकी हमले के बारे में कुछ नहीं कहा. वहीं नेशनल कांफ्रेंस ने लोन के इन नारों से किनारा कर लिया.

बता दें कि जम्मू-पठानकोट मार्ग पर सुंजुवान में शनिवार तड़के आतंकियों ने सेना के कैंप पर हमला कर दिया. इस हुए हमले में दो जवानों के शहीद होने और चार के घायल होने की खबर है. आर्मी कैंप पर यह हमला करीब सुबह के छह बजे हुआ. अब सेना का कैंप के अंदर मौजूद आतंकियों को खदेड़ने के लिए ऑपरेशन तेज हो गया है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक QRT की चार टीमों को आर्मी कैंप के अंदर भेजा गया है. उस घर को चारों ओर से घेर लिया गया है, जिसमें आतंकी छिपे बैठे हैं. यहां तीन से चार आतंकियों के छिपे होने की खबर है. जानकारी है कि हमले में शामिल सभी आतंकी पाकिस्तान के हैं. सेना के कैंप पर हमला करने वाले आतंकी जैश ए मोहम्मद के हैं.

 

बताया जा रहा है कि कैंप के भीतर से गोलियां चलने की आवाज सुनी गईं जिसके बाद इलाके की घेराबंदी कर दी गई. पुलिस का कहना है कि यह अपनी तरह का पहला ऐसा हमला है. अधिकारियों ने बताया कि शिविर के पिछले हिस्से में सैन्यकर्मियों के आवासीय क्वार्टर हैं. आतंकवादियों की संख्या दो से तीन मानी जा रही है. हालांकि उन्हें अलग-थलग किया जा चुका है.

सुबह करीब 4.50 बजे से फायरिंग जारी है. हमले के मद्देनजर पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है, हेलिकॉप्टर से नजर रखी जा रही है. कैंप के नजदीक 500 मीटर के दायरे में सारे स्कूल बंद कर दिये गये हैं. बेहद एहतियाती तौर पर ऑपरेशन को अंजाम दिया जा रहा है. जवानों के परिवारों को कोई नुकसान ना पहुंचे इस बात का ध्यान रखा जा रहा है.

First published: 10 February 2018, 13:27 IST
 
अगली कहानी