Home » इंडिया » Pakistani spy arrested from Jaisalmer Rajasthan, Taken training from ISI
 

पाकिस्तान के लिए जासूसी करता पकड़ा गया शख्स, पुलवामा हमले के बाद पहुंचाई सेना की जानकारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 March 2019, 13:33 IST

पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाला एक शख्स राजस्थान के जैसलमेर से गिरफ्तार हुआ है. जैसलमेर के सम क्षेत्र स्थित गांगा बस्ती निवासी नवाब खां पुत्र मठार खां ने पाक में एक माह तक प्रशिक्षण लिया था.

वह तीन दिन पहले जैसलमेर से पकड़े गया है. उसने एटीएस की पूछताछ में कई राज खोले हैं. पाकिस्तानी जासूस ने बताया कि वह 6 महीने पहले पाकिस्तान से ट्रेनिंग लेकर लौटा था और तभी से पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी कर रहा था. उसने पुलवामा हमले और भारतीय वायुसेना की एयरस्ट्राइक के बाद सेना के मूवमेंट की जानकारी लगातार पाकिस्तान को दी थी.

जासूस ने बताया कि वह जैसलमेर और बाड़मेर में टूरिस्ट गाइड बनकर सेना के मूवमेंट पर नजर रख रहा था. वह वीडियो कॉल के जरिये सारी जानकारी दुश्मन देश को दे रहा था. तीन दिन की पूछताछ के बाद उसे इंटेलीजेंस के हवाले कर दिया गया है. 

पुलवामा हमले और एयर स्ट्राइक के बाद नवाब खां पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ के लगातार संपर्क में था. आइएसआइ को सूचना देने के बदले उसने 5 हजार रुपए लिए थे. इंटेलिजेंस सूत्रों की मानें तो नवाब खां का पाकिस्तान में सुमार खां नाम का व्यक्ति रिश्तेदार है. वह आइएसआइ से मिला है.

पिछले साल जनवरी-फरवरी में सुमार खां से मिलने ही नवाब खां पाकिस्तान गया था. नवाब खां सम क्षेत्र में जीप चलाने का काम करता है. कई महीनों से उस पर सुरक्षा एजेंसियों की निगरानी थी. जयपुर से आई टीम ने नवाब को फिल्मी अंदाज में दबोचा. वे जीप के ग्राहक बनकर गए. घूमने के दौरान वे अपना मोबाइल सम में ही छोड़कर चले आए.

नवाब के साथ जैसलमेर आने पर उन्होनें मोबाइल सम में भूल आने की बात कही और उसके परिचित को मोबाइल के साथ बुलाया. नवाब के परिचित के पहुंचने पर उसे जीप सौंपकर नवाब को जयपुर साथ ले गए. जैसलमेर जिले में पुलवामा हमले के बाद से ही सभी सुरक्षा और खुफिया एजेंसियां हाई अलर्ट पर आ चुकी हैं. 

मसूद अजहर पर UN के फैसले से पहले अमेरिका की चेतावनी, वैश्विक आतंकी नहीं घोषित किया तो..

लोकसभा चुनाव 2019: PM मोदी ने किया ऐसा ट्वीट, राहुल गांधी, ममता और मायावती को कर दिया टैग

First published: 13 March 2019, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी