Home » इंडिया » Pampore Encounter: Army and Paramilitary CRPF fought over who killed terrorists?
 

पंपोर मुठभेड़: आतंकियों को मारने में क्रेडिट की होड़ के बाद सेना की सफाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 June 2016, 12:44 IST

जम्मू-कश्मीर के पंपोर में सीआरपीएफ की बस पर आतंकी हमले में आठ जवान शहीद हो गए. जवाबी कार्रवाई में दो आतंकी मारे गए. इस मामले में क्रेडिट लेने की होड़ के बाद सेना ने सफाई दी है.

शनिवार को यह मुठभेड़ हुई थी. दरअसल सीरआरपीएफ और आर्मी के बीच आतंकवादियों को मारने को लेकर तनातनी देखी गई. विवाद यह था कि पंपोर में उस दिन आतंकवादियों को किसने मारा? सीआरपीएफ ने या फिर आर्मी के जवानों ने?

सेना ने पहले कहा कि उसने दो आतंकियों को मार गिराया, जबकि सीआरपीएफ ने इस बात का विरोध किया और कहा कि 'श्रेय लेने के लिए किया गया दावा गलत' है. सीआरपीएफ के मुताबिक जब सेना के जवान पहुंचे तब मुठभेड़ खत्म हो चुकी थी.

एनकाउंटर के बाद सेना की उत्तरी कमांड की ओर से ट्वीट कर दिया गया "आर्मी ने दो आतंकवादियों को मार गिराया, जिन्होंने सीआरपीएफ की बस पर कश्मीर के पंपोर में हमला किया था."

उत्तरी कमांड के ट्वीट पर विवाद

इसके बाद सीआरपीएफ कर्मी और अधिकारी कथित तौर पर यह मामला सेना के उच्च पदाधिकारियों के पास ले गए. सेना की उत्तरी कमांड के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से बदला हुआ संदेश ट्वीट किया गया.

इसमें कहा गया, "पंपोर ऑपरेशन पर अपडेट. घायल सीआरपीएफ कर्मियों को अस्पताल ले जाया गया. सुरक्षा बलों के संयुक्त अभियान में दो आंतकवादी मारे गए."

पंपोर हमले में 8 जवान हुए थे शहीद

इसके बाद सीआरपीएफ अधिकारियों ने सेना और अपने वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित किया कि पंपोर में किसी प्रकार का कोई संयुक्त अभियान था ही नहीं.

सीआरपीएफ के मुताबिक सेना के जवान जब मुठभेड़ स्थल पर आए, तब एनकाउंटर खत्म हो चुका था. उन लोगों ने आतंकवादियों के शवों के साथ सेल्फी लीं और आतंकियों के हथियार लेकर वापस चले गए.

वहीं ऑपरेशन से जुड़े एक अधिकारी ने कहा, "वे एक ऐसे ऑपरेशन के लिए क्रेडिट लेने का दावा कर रहे हैं जिसके बारे में उन्हें कुछ पता ही नहीं है."

पुराने ट्वीट पर उत्तरी कमांड की सफाई

दरअसल शनिवार को श्रीनगर के बाहरी इलाके पंपोर में सीआरपीएफ की बस पर दो आतंकवादियों ने हमला कर दिया था जिसके बाद दोनों ओर से चली मुठभेड़ में सीआरपीएफ के आठ जवान शहीद हुए थे, जबकि दो आतंकियों की मौत हो गई थी.

आखिरकार सेना ने एक बार फिर पूरे ऑपरेशन पर सफाई दी. सेना के उत्तरी कमांड ने ट्वीट किया,"पंपोर ऑपरेशन पर अपडेट. आतंकवादियों से मुहंतोड़ जवाबी कार्रवाई में सीआरपीएफ ने दो आतंकवादी मार गिराए. पुराने ट्वीट को सही किया गया है."

वहीं सीआरपीएफ के महानिदेशक के दुर्गा प्रसाद से जब सोमवार को यह पूछा गया कि इस एनकाउंटर में सेना ने कोई भूमिका निभाई या नहीं, तो उन्होंने कहा, "सेना की 51 आरआर (राष्ट्रीय राइफल्स) यूनिट उस वक्त घटनास्थल पर पहुंची, जब एनकाउंटर खत्म हो चुका था.

First published: 28 June 2016, 12:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी