Home » इंडिया » Parliamentary committee recommends 100 percent salary hike for MPs
 

सांसदों के आएंगे अच्छे दिन, वेतन दोगुना करने का प्रस्ताव

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 April 2016, 15:53 IST

संसद की विशेष समिति ने सांसदों के वेतन और भत्तों में 100 फीसदी के इजाफे का प्रस्ताव रखा है. जानकारी के मुताबिक वित्त मंत्रालय से भी इस मसौदे को मंजूरी मिल चुकी है. प्रस्ताव को लाने की वजह सासंदों के अच्छे व्यवहार को बताया गया है. 

अब इस प्रस्ताव को प्रधानमंत्री की मंजूरी मिलना बाकी है. जिसके बाद संसद के अगले सत्र में इस मुद्दे पर बिल पास होने की संभावना है. सांसदों के वेतन और भत्तों में बढ़ोत्तरी के सिफारिश पर सभी मंत्रालयों से कैबिनेट नोट भेजकर राय मांगी गई है.

100 फीसदी बढ़ेगा वेतन !


संसदीय समिति ने इस प्रस्ताव में सांसदों का वेतन 50 हजार से बढ़ाकर 1 लाख रुपये करने की सिफारिश की है. इसके साथ ही संसदीय क्षेत्र का भत्ता भी 45 हज़ार से 90 हज़ार करने की बात कही गई है.

अगर ये सभी सिफारिशें मान ली जाती हैं, तो सांसदों का वेतन और भत्ता 1 लाख 40 हज़ार से बढ़कर कुल 2 लाख 80 हजार प्रतिमाह हो जाएगा.

पढ़ें:सांसदों से पांच गुना ज्यादा होगा कैबिनेट सचिव का वेतन

बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता वाली समिति ने वेतन बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है. समिति ने सांसदों की पेंशन में 75 प्रतिशत वृद्धि की बात कही है. 

छह साल पहले हुआ था इजाफा


समिति ने प्रस्ताव दिया है कि सांसदों के वेतन की समीक्षा एक निश्चित समय पर की जानी चाहिए. 

सातवें वेतन आयोग की रिपोर्ट के मुताबिक किसी सरकारी नुमाइंदे का न्यूनतम वेतन 18,000 और अधिकतम 2 लाख 25 हजार हो सकता है. इसके साथ ही कैबिनेट सचिव और समकक्ष अधिकारी के लिए 2.5 लाख रुपये प्रतिमाह वेतन का प्रस्ताव है.

पढ़ें:ईपीएफ पर कर लगाने का क्या मतलब?

इससे पहले सासंदों के वेतन में 6 साल पहले वृद्धि हुई थी. ऐसे में इस प्रस्ताव के मंजूरी मिल जाती है, तो आजादी के 65 साल में ये 35वां मौका होगा जब हमारे सांसदों की सैलरी बढ़ जाएगी.

First published: 30 April 2016, 15:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी