Home » इंडिया » Patanjali Ayurved to challenge NAA's notice, present case on January 28
 

पतंजलि आयुर्वेद देगा इस प्राधिकरण को चुनौती, GST पर मिला था नोटिस

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 January 2019, 12:29 IST

पतंजलि आयुर्वेद कंपनी नेशनल प्रोफिटेरिंग अथॉरिटी (NAA) को चुनौती देने के लिए तैयार है. प्राधिकरण उपभोक्ताओं को लाभ नहीं देने के लिए जुर्माना मांगता है. एनएए के इस कदम को 'बेहद गलत' करार देते हुए पतंजलि ने मंगलवार को कहा कि वह 28 जनवरी को सुनवाई के दौरान अपना जवाब दाखिल करेगी. इससे पहले वस्तु और सेवाकर (जीएसटी) से सम्बंधित एक मामले में एनएए ने 18 दिसंबर को फर्म को नोटिस भेजा था.

एनएए के अनुसार पतंजलि ने 150 एसकेयू (शेल्फ-कीपिंग यूनिट) में फैले 150 करोड़ रुपये के बेनिफिट्स को पास नहीं किया. टूथपेस्ट, शैम्पू, शेविंग क्रीम और वाशिंग पाउडर जैसी 175 से अधिक वस्तुओं के लिए केंद्र सरकार द्वारा कर दरों को 28 फीसदी से 18 प्रतिशत की कटौती करने के बाद 15 नवंबर 2017 से प्रभावी हो गया.

पतंजलि के प्रवक्ता एस के तिजारावाला ने कहा, “विभाग द्वारा प्रस्तुत विवरण को हमने पूरी तरह से गलत पाया. इसमें 100 से अधिक SKU शामिल हैं, जो या तो डुप्लिकेट हैं या छूट दी गई है या जिनके वित्तीय निहितार्थ नहीं हैं. ' पिछले एक महीने में तेजी से बढ़ते उपभोक्ता सामानों को प्राधिकरण को चुनौती देने वाला यह दूसरा उदाहरण है.

दिसंबर में, हिंदुस्तान यूनिलीवर ने NAA पर मनमानी करने का आरोप लगाया था. यह एंटी-मुनाफाखोरी निकाय के खिलाफ कानूनी विकल्पों पर विचार कर रहा है क्योंकि उसे 223 करोड़ रुपये के लिए नया नोटिस मिला है.

ये भी पढ़ें : Jio ग्राहकों को लगा झटका, डाउनलोड स्पीड में आयी इतनी बड़ी गिरावट, देखिये TRAI की नई रिपोर्ट

First published: 16 January 2019, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी