Home » इंडिया » Pehlu Khan lynching Case Alwar District Court acquitted all six accused
 

पहलू खान मॉब लिंचिंग केस- सबूतों के अभाव में सभी छह आरोपी बरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 August 2019, 19:27 IST

राजस्थान ने चर्चित पहलू खान मॉब लिचिंग केस में अलवर जिला अदालत ने सबूतों के अभाव में सभी छह आरोपियों को बरी कर दिया है. अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश सरिता स्वामी ने इस मामले में सबूतों के अभाव में सभी आरोपियों को बरी किया है. बता दें, अलवर जिले के बहरोड़ में करीब दो साल पहले गौ तस्करी के शक में भीड़ ने पहलू खान की पीट पीटकर हत्या कर दी थी. जिला अदालत के इस फैसलें में तीन नाबालिग आरोपियों को शामिल नहीं किया गया है.

पहलू खान केस में कुल 9 लोगों को आरोपी बनाया गया था जिनके खिलाफ जांच हुई थी. इसमें से तीन आरोपियों को नाबालिग मानकर उनके खिलाफ अगल केस चलाया गया था. कोर्ट ने आज जिनो लोगों को बरी किया है उसमें विपिन यादव, रविन्द्र कुमार, कालूराम, दयानंद, योगेश कुमार उर्फ धोलिया और भीम राठी शामिल है.

अदालत में सुनवाई के दौरान कहा गया कि इस मामले से संबंधित वीडियों में सभी के चोहरों से मिलान नहीं हो पाया. सआथ ही पहलू खान के बेटों की गवाही को भी अदालत में कोई तवज्जो नहीं मिली. वहीं जिस व्यक्ति ने इस पूरी छगना का वीडियो बनाया वो भी अदालत में अपने बयान से मुकर गया.

गौरतलब हो, साल 2017 में हरियाणा के नूहं मेवात जिले के जयसिंहपुर निवासी के रहने वाले पहलू खानू अपने दोनों बेटों के साथ अपनी गाड़ी में जयपुर से दो गायों को खरीदकर अपने घर ले जा रहे थे तभी रास्ते में शाम सात बजे से आसपास अलवर जिले में उनकी गाड़ी को रूकवार भीड़ ने उनके साथ मारपीट की. इस मारपीट में पहलू खान गंभीर रूप से घायल हुए थे. जिसके बाद सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने पहलू खान को बहरोड़ के एक अस्पताल में भर्ती कराया जहां इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो  गई थी. इस घटना की गूंज दिल्ली तक सुनाई दी थी.

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले पर आतंकी हमले की साजिश, खुफिया विभाग ने किया सतर्क

First published: 14 August 2019, 19:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी