Home » इंडिया » PM announces ex-gratia payment of Rs 10 lakh each to families of those killed in Iraq's Mosul
 

मोसुल में मारे गए भारतीयों के परिजनों को पीएम मोदी ने किया 10 लाख के मुआवजे का ऐलान

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 April 2018, 13:07 IST

इराक के मोसुल में मारे गए लोगों के परिवारों के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने प्रत्येक सदस्य को 10 लाख रुपये के अनुग्रह भुगतान का ऐलान किया है. बता दें कि इराक में बंधक बनाये गए 39 भारतीयों में से 38 भारतीयों के अवशेष विदेश राज्यमंत्री लेकर वीके सिंह कल (2 अप्रैल) लेकर भारत आए थे. खास विमान से ये शव भारत लाये गए. उनका स्पेशल प्लेन अमृतसर में लैंड हुआ था.

1 अप्रैल को इराक जाते वक्त उन्होंने कहा था, "वहां से आने के बाद पहले अमृतसर, फिर कोलकाता और फिर पटना जाकर उनके परिजनों को शव सौंपूंगा. इस बारे में मृतकों के परिजनों को सूचना दे दी गई है."

बता दें कि कल मृतक परिवारों को मुआवजे की बात पर वीके सिंह ने कहा था, ''ये बिस्किट बांटने का काम नन्हीं है. ये आदमियों की जिंदगी का सवाल है. आ गयी बात समझ में? मैं अभी एलान कहा से करूं? जेब में कोई पिटारा थोड़ी रखा हुआ है.''

गौरतलब है कि मारे गए कुछ लोगों के परिवारों ने 26 मार्च को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की थी. इस महीने, विदेश मंत्री ने संसद को बताया था कि आतंकी समूह आईएसआईएस ने जून 2014 में इराक के मोसूल से 40 भारतीयों का अपहरण कर लिया था लेकिन उनमें से एक खुद को बांग्लादेश का मुस्लिम बताकर भाग निकला था. उन्होंने कहा था कि बाकी 39 भारतीयों को बदूश ले जाया गया और उनकी हत्या कर दी गई थी.

पढ़ें- मोदी सरकार का फरमान-फेक न्यूज़ देने वाले पत्रकारों की मान्यता होगी रद्द, विरोध शुरू

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने 20 मार्च को संसद को सूचित किया था कि इराक में मजदूरी का काम कर रहे जिन 39 भारतीयों का 2014 में मोसुल से अपहरण हो गया था, उनकी हत्या हो गई है. इससे पहले इराक से बच निकले हरजीत मसीह ने दावा किया था कि आईएस ने 39 भारतीयों की गोली मारकर हत्या कर दी है. इसके जबाव में विदेश मंत्री ने कहा था कि जब तक इस संबंध में कोई ठोस सबूत नहीं मिल जाता, वे किसी की मृत्यु की पुष्टि नहीं कर सकतीं

First published: 3 April 2018, 13:00 IST
 
अगली कहानी