Home » इंडिया » PM Modi arrival at Vladivostok on his Russia visit
 

पीएम मोदी का दो दिवसीय रूस दौरा, ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम की बैठक में होंगे शामिल

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 September 2019, 9:47 IST

पीएम मोदी रूस के दो दिवसीय दौरे पर व्लादिवोस्तोक पहुंच गए हैं. इस यात्रा के दौरान पीएम मोदी भारतीय अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के उपाय तलाशने की कोशिश करेंगे. इसके साथ ही वह व्लादिवोस्तोक में हो रही ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम बैठक में भी भाग लेंगे. जहां मोदी की कोशिश निवेश के अवसर तलाशन के साथ-साथ भारतीय हुनर के लिए नया बाजार खोजने की भी होगी.

ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम की बैठक पीएम मोदी विशेष अतिथि के तौर पर शिरकत करेंगे. इसके साथ ही पीएम मोदी रूसी राष्ट्रपति के साथ 20वीं सालाना शिखर बैठक में भी भाग लेंगे. व्लादिवोस्तोक पहुंचने के बाद मोदी आज दोपहर पुतिन के साथ रूसी शिप बिल्डिंग यार्ड देखने जाएंगे. आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक दोनों देशों के राष्ट्राध्यक्ष एक साथ आइस ब्रेकर पोत पर भी जाएंगे.

बता दें कि आइस ब्रेकर पोत पर पीएम मोदी की मौजूदगी इस बात की ओर इशारा करती है कि पीएम मोदी आर्कटिक के तेल-गैस खजाने तक पहुंचने की कोशिश में हैं. जिससे भारत को फायदा पहुंच सके. दरअसल, रूस की मदद से भारत आर्कटिक के तेल-गैस खोज और खनन में शामिल होना चाहता है. विदेश सचिव विजय गोखले के मुताबिक पीएम मोदी की 36 घंटे की रूस यात्रा छोटी मगर सक्रिय संपर्क वाली है. इस दौरान द्विपक्षीय और बहुपक्षीय मुलाकातों में आर्थिक और रणनीतिक संबंधों को मजबूत करने पर जोर होगा.

बता दें कि रूसी राष्ट्रपति के निमंत्रण पर पीएम मोदी विशेष आमंत्रित के तौर पर ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम में शामिल हो रहे हैं. इसके लिए राष्ट्रपति पुतिन ने पीएम मोदी को पिछले साल ही न्योता दिया था. जब वह 5 अक्टूबर 2018 को ही अपनी भारत यात्रा पर आए थे. बता दें कि आर्थिक संपर्क बढ़ाने के लिए रूसी राष्ट्रपति ने EEF की तीन साल पहले शुरुआत की थी. इस बैठक में मंगोलिया, मलेशिया और जापान के नेता भी पहुंचेगे. विदेश मंत्रालय के मुताबिक रूस के सुदूर पूर्व इलाके में भारत व्यापारिक सहयोग की संभावनाएं देख रहा है.

सफलता के करीब पहुंचा इसरो का मिशन, चंद्रमा से सिर्फ 35 किलोमीटर दूर चंद्रयान-2

First published: 4 September 2019, 9:47 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी