Home » इंडिया » PM Modi as divider in chief writer Atish Ali Taseer OCI card canceled by Indian government
 

PM मोदी को लिखा था डिवाइडर इन चीफ, लेखक का भारत सरकार ने रद्द किया OCI कार्ड

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 November 2019, 9:13 IST

अमेरिका की प्रतिष्ठित टाइम मैगज़ीन ने मई महीने में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक कवर स्टोरी की थी. इसमें पीएम मोदी को 'डिवाइडर इन चीफ' बताया गया था. इस आर्टिकल को लिखने वाले लेखक थे आतिश अली तासीर. अब खबर आ रही है कि भारत सरकार ने उनका OCI यानि ओवरसीज सिटीजनशीप ऑफ इंडिया कार्ड रद्द कर दिया है.

गृह मंत्रालय के अनुसार, ब्रिटेन में जन्में लेखक आतिश अली तासीर ने अपने पिता के पाकिस्तानी मूल के होने की जानकारी छुपाई है. गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, "आतिश अली तासीर OCI कार्ड के लिए अयोग्य हो गए हैं, यह कार्ड ऐसे व्यक्ति को जारी नहीं किया जाता है जिसके माता-पिता या दादा-दादी पाकिस्तानी हों. आतिश ने यह बात छिपा कर रखी थी."

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार, "आतिश अली तासीर ने स्पष्ट रूप से बुनियादी जरूरतों को पूरा नहीं किया और जानकारी को छुपाया है. वह पाकिस्तान के दिवंगत नेता सलमान तासीर और भारतीय पत्रकार तवलीन सिंह के बेटे हैं. आतिश के पिता पाकिस्तान के मशहूर बिजनेसमैन और राजनेता थे."

प्रवक्ता ने बताया कि नागरिकता अधिनियम के अनुसार, किसी भी व्यक्ति ने अगर धोखे से, तथ्य छिपाकर या फर्जीवाड़ा करके OCI कार्ड हासिल किया है तो कार्ड धारक के रूप में उसका पंजीकरण रद्द कर दिया जाएगा. इसके बाद उसे काली सूची में डाल दिया जाएगा. इसके साथ ही भविष्य में उसके भारत में प्रवेश करने पर भी रोक लगा दी जाएगी.

 

प्रवक्ता ने इस बात को भी साफ किया कि 'टाइम' पत्रिका में पीएम मोदी को लेकर आलेख लिखने के कारण आतिश अली तासीर का ओसीआई कार्ड रद्द नहीं किया गया है. आतिश को जवाब देने के लिए 24 घंटे का वक्त दिया गया है. वहीं, तासीर ने ट्विटर पर लिखा कि उन्हें जवाब देने के लिए 21 दिन का समय देना चाहिए न कि 24 घंटे का.

मोदी 'डिवाडर इन चीफ'

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के समय पीएम मोदी के पिछले पांच सालों के कामकाज पर टाइम पत्रिका के एशिया एडिशन ने यह लीड स्टोरी की थी. इस स्टोरी का शीर्षक था  “Can the World's Largest Democracy Endure Another Five Years of a Modi Government?” यानि क्या दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र मोदी सरकार के और पांच साल सहन कर पाएगा?

महाराष्ट्र: गवर्नर से मिले BJP के नेता तो भड़की शिवसेना, कहा- बहुमत है तो सरकार बनाएं

ED, CBI और IT के रूप में विरोधियों पर त्रिशूल का इस्तेमाल कर रहे मोदी और अमित शाह- कांग्रेस

First published: 8 November 2019, 9:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी