Home » इंडिया » Pm modi favorit cbi joint director weakened vijay mallya look out notice allowing him to escape says rahul gandhi
 

विजय माल्या विवाद: राहुल गांधी का PM मोदी पर निशाना, 'पसंदीदा' अधिकारी ने भागने में की मदद

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 September 2018, 17:00 IST

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर विजय माल्या को लेकर सीधा हमला बोला है. विजय माल्या को लेकर देश में एक बार फिर से राजनीतिक सरगमियां तेज हो गई हैं. भाजपा और कांग्रेस इस मुद्दे पर एक दूसरे पर जमकर हमला बोल रहे हैं. ये ताजा विवाद अरुण जेटली की विजय माल्या से मुलाकात को लेकर हुआ है. पहले विजय माल्या और फिर कांग्रेस नेता के दावे के बाद ये और बढ़ गया है. 

राहुल गांधी ने शनिवार को ट्वीट कर पीएम मोदी पर एक बार फिर से हमला बोला. राहुल ने कहा कि पीएम मोदी के पसंदीदा अधिकारी ने विजय माल्या को भागने में मदद की. उन्होंने ट्वीट कर लिखा, "सीबीआई के संयुक्त निदेशक एके शर्मा ने माल्या के लुकआउट नोटिस को कमजोर किया जिससे माल्या भागने में कामयाब रहा. शर्मा गुजरात कैडर के अधिकारी हैं और वह सीबीआई में प्रधानमंत्री के बहुत पसंदीदा हैं. यही अधिकारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के भागने की योजना का प्रभारी थे"

ये भी पढ़ें- अरुण जेटली ने फ्री पास देकर विजय माल्या को देश से भगाया- राहुल गांधी

गौरतलब है कि बुधवार को विजय माल्या ने सनसनीखेज दावा करते हुए कहा था कि वह भारत से रवाना होने से पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिला था. उसने अरुण जेटली से बैंकों के साथ चल रहे मामले का निपटारा करने की पेशकश की थी. जिसे बाद में अरुण जेटली ने खारिज कर दिया था.

उन्होंने सफाई देते हुए कहा था कि उनकी विजय माल्या के साथ कोई भी बातचीत नहीं हुई थी. साल 2014 के बाद उन्होंने कभी भी उसे मुलाकात का समय नहीं दिया. वो एक बार सांसद के विशेषाधिकार का 'दुरुपयोग' करते हुए संसद भवन के गलियारे में उनके पास आया था. विजय माल्या भागने से पहले तक राज्यसभा में सांसद था. 

ये भी पढ़ें- भगोड़े विजय माल्या का दावा, वित्त मंत्री से मिलने के बाद छोड़ा था भारत

First published: 15 September 2018, 17:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी