Home » इंडिया » PM Modi in the World Economic Forum said three major threats to the world
 

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में पीएम मोदी ने कहा, दुनिया के सामने तीन बड़े खतरे

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 January 2018, 17:00 IST

दावोस में पीएम मोदी ने आतंकवाद को विश्व आर्थिक मंच के सामने बड़ा खतरा बताया. उन्होंने  कहा कि अच्छे और बुरे आतंकवाद में भेद करना ज्यादा खतरनाक है. मोदी ने कहा कि आज देश आत्म केन्द्रित होते जा रहे हैं और गलोब्लिजेशन की चमक कमजोर पड़ती जा रही है. 

दावोस में पीएम मोदी ने कहा, भारत के प्रधानमंत्री की यात्रा 1997 में हुई थी, तब भारत की जीडीपी 4 मिलियन डॉलर के करीब थी. अब दो दशक बाद करीब 6 गुना ज्यादा है. पीएम ने कहा, 1997 में जब जब पूर्व प्रधानमंत्री देवगौड़ा यहां आए थे तब भारत की जीडीपी 4 मिलियन डॉलर के करीब थी. अब दो दशक बाद करीब 6 गुना ज्यादा है.

पीएम मोदी ने कहा कि 1997 से अब तक काफी कुछ बदल गया है. पहले चिड़ियां ट्वीट करती थी अब इंसान करते हैं. उस समय अगर आप इंटरनेट पर अमेजॉन टाइप करते तो नदियों और जंगलों की तस्वीर आती.

पीएम ने कहा कि आज डाटा सबसे बड़ी संपदा है. डाटा के ग्लोबल फ्लो से सबसे बड़े अवसर बन रहे हैं और सबसे बड़ी चुनौतियां भी.

पीएम ने कहा कि जलवायु परिवर्तन आज सबसे बड़ा खतरा है. आर्टिक क्षेत्र में मौजूद बर्फ पिघल रही है और कई द्वीप डूब रहे हैं.

पीएम मोदी ने कहा, नेपाल में भूकंप राहत कार्य और यमन से पूरी दुनिया के लोगों को निकालने में भारत का योगदान काफी अहम था. उन्होंने कहा संयुक्त राष्ट्र की शांति सेना में भारत का अहम योगदन है. पीएम मोदी ने कहा नियमों पर आधारित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्थाओं का पालन जरूरी, इंटरनैशनल कानूनों का पालन जरूरी है. 

First published: 23 January 2018, 16:55 IST
 
अगली कहानी