Home » इंडिया » Pm Modi interact with ujjwala yojana beneficiaries womens through namo app also target congress
 

उज्जवला योजना के बारे में बात करते हुए PM मोदी ने 'ईदगाह' के हामिद को लेकर कही बड़ी बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 May 2018, 13:07 IST

पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का लाभ उठा रही देशभर की महिलाओं से नमो ऐप के जरिए बातचीत की. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि उज्ज्वल योजना ने पूरे भारत में कई लोगों के जीवन पर सकारात्मक प्रभाव डाला है. इसने गरीब, दलितों, जनजातीय समुदाय के लोगों के जीवन को मजबूत किया है. पीएम ने कहा कि समाजिक पहल में यह योजना केंद्रीय भूमिका निभा रही है.

ये भी पढ़ें-विदेश जाने से पहले राहुल का ट्वीट- जल्द वापस लौटूगां, BJP ने कहा- ऐसे ही मनोरंजन करते रहिए

बातचीत के दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस पर तंज भी कसा. उन्होनें कहा कि हमने पिछले 4 सालों में 10 करोड़ कनेक्शन दिए हैं, यानी जितना काम 70 वर्षों में नहीं हुआ उतना हमने चार साल में कर के दिखाया है.

पीएम ने कहा कि हम अपनी माताओं और बहनों को धुएं से मुक्ति दिलाना चाहते थे. इन 10 करोड़ में से चार करोड़ कनेक्शन उज्ज्वला योजना के तहत दिए गए. उन्होंने आगे कहा कि इसकी कामयाबी को देखते हुए हमने पीपीएल परिवारों तक एलपीजी कनेक्शन देने का लक्ष्य बढ़ाकर आठ करोड़ कर दिया.

उज्ज्वला योजना की खूबियों को गिनाते हुए पीएम मोदी ने कहा, '2014 तक 13 करोड़ परिवारों को एलपीजी कनेक्शन मिला. इसका मतलब है, छह सात दशक के बाद भी सिर्फ तेरह करोड़ परिवारों तक एलपीजी कनेक्शन पहुंचा था. ज्यादातर अमीर लोग थे, जिन्हें एलपीजी कनेक्शन मिलते थे. लेकिन पिछले 4 वर्षों में 10 करोड़ नए कनेक्शन जोड़े गए हैं और गरीबों को लाभ पहुंचाया गया.'

पीएम मोदी ने कहा, "पहले सामान्य व्यक्ति के घर में गैस चूल्हे की कल्पना नहीं हो सकती थी. मैं छोटा था तो बड़े लोग ऐसी बातें भी करते थे कि गैस चूल्हा नहीं रखना चाहिए, क्योंकि इससे आग लग जाएगी. मैं पूछता था कि आप लोगों के घर में आग क्यों नहीं लगेगी, तो जवाब नहीं मिलाता था."

 

इस बातचीत के दौरान पीएम मोदी ने मुंशी प्रेमचंद की प्रसिद्ध कहानी 'ईदगाह' का जिक्र करते हुए कहा, "बचपन में एक कहानी सुनी थी, जिसे मैं कभी नहीं भूल सकता. मुंशी प्रेमचंद ने बहुत मशहूर कहानी ईदगाह लिखी थी. इसका किरदार हामिद मुझे हमेशा याद रहता है. वो मेले में मिठाई न खाकर अपनी दादी के लिए चिमटा लाता है, ताकि दादी के हाथ न जल जाएं. उन्हें चोट न लगे. एक हामिद को दादी की चिंता है तो मैं क्यों नहीं कर सकता."

वहीं पीएम मोदी ने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि आजादी के 70 वर्ष में सिर्फ 13 करोड़ एलपीजी कनेक्शन दिए गए. वो भी सांसद और नेताओं की सिफारिश से मिलते थे. उन्होंने कहा, "मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि जल्द ही हम सभी परिवारों तक एलपीजी गैस कनेक्शन पहुंचाएंगे. जिनकी रसोई घरों में एलपीजी के चूल्हे जल रहे हैं. वहां लकड़ी, कंडे और कैरोसिन से निजात मिल चुकी है. नारी शक्ति को धुएं से मुक्ति मिली है. उन्हें बीमारियों से मुक्ति मिली है."

First published: 28 May 2018, 13:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी