Home » इंडिया » PM Modi: Issue of Kashmir will be resolved with in the constitutional limit
 

पीएम मोदी: संविधान के मुताबिक कश्मीर संकट का समाधान

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 February 2017, 8:21 IST
(ट्विटर)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर के हालात पर सोमवार को राज्य की विपक्षी पार्टियों के नेताओं से मुलाकात की. बैठक के दौरान पीएम मोदी ने कश्मीर घाटी के हालात पर अफसोस जताया.  

पीएम मोदी ने इस दौरान साफ किया कि संविधान के दायरे में रहकर ही कश्मीर में जारी संकट का हल निकाला जाएगा. बैठक में राज्य के पूर्व सीएम और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला भी मौजूद रहे.

इस बैठक के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा, "जम्मू-कश्मीर के हालात पर प्रतिनिधिमंडल और राज्य की विपक्षी पार्टियों से विस्तृत चर्चा हुई."

पढ़ें: कश्मीर पर पीएम के साथ उमर और विपक्ष की बैठक, पैलेट गन पर बैन की मांग

पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा, "आज की बैठक के दौरान दी गई रचनात्मक सलाह की मैं सराहना करता हूं. जम्मू-कश्मीर की समस्या का हल खोजने के लिए सभी पार्टियों को एक साथ काम करना चाहिए."

बैठक में पीएम ने क्या कहा?

1. कश्‍मीर के मौजूदा हालात से हम दुखी हैं.

2. सरकार और पूरा देश जम्‍मू कश्‍मीर के साथ है.

3. हिंसा में मरने वाले हमारा और हमारे देश का हिस्‍सा हैं.

4. जम्‍मू-कश्‍मीर में होने वाली मौतें चाहे वो युवाओं की हो या जवानों की, हमें परेशान करने वाली हैं.

5. सभी राजनीतिक दल कश्‍मीर जाकर वहां लोगों से बात कर उनके दुख दर्द को बांटें.

6. मैं राज्‍य का विकास करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हूं.

7. जम्‍मू-कश्‍मीर के लिए सभी राजनैतिक दलों को एक साथ मिलकर काम करना चाहिए.

8. सभी मिलकर काम करेंगे तभी इसका कुछ हल निकलेगा.

9. सारे काम संविधान के दायरे में रहकर होंगे.

10. कश्‍मीर में सभी शांति बनाए रखें.

First published: 22 August 2016, 3:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी