Home » इंडिया » PM Modi launch Ayushman Bharat health care Yojana thug cheated 450 person in the name of Modicare
 

लॉन्च होते ही दुनिया की सबसे बड़ी हेल्थ योजना में ठगी शुरू, इस शख्स ने 450 लोगों को लगाया चूना

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 September 2018, 14:56 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 23 सितंबर को दुनिया की सबसे बड़ी हेल्‍थकेयर योजना आयुष्‍मान भारत योजना को लॉन्‍च किया था. लेकिन लॉन्चिंग के कुछ दिनों के भीतर ही इसमें ठगी शुरू हो गई है. आयुष्‍मान भारत (जो प्रधानमंत्री जन आरोग्‍य योजना भी कहा जाता है) का लाभ दिलाने के नाम पर देश की राजधानी दिल्‍ली से सटे नोएडा के सेक्टर 16 में बिहार के एक शख्‍स ने 450 लोगों को चूना लगा दिया.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार, नोएडा के सेक्‍टर-16 स्थित झुग्‍गी-झोपड़ी कॉलोनी के रहने वाले लोग ठगी का शिकार हुए हैं. बिहार के मुजफ्फरपुर निवासी महेश चंद ने कॉलोनी के लोगों को कथित तौर पर गोल्‍डन कार्ड दिलाने का दावा किया था, जिससे उनका आयुष्‍मान भारत योजना (मोदीकेयर के नाम से लोकप्रिय) के अंतर्गत आने वाले निजी अस्‍पतालों में मुफ्त इलाज हो सके.

पढ़ें- SC आयोग के अध्यक्ष की भतीजी को 1 साल की मासूम समेत जिंदा जलाने की कोशिश

पीड़ित लोगों ने बताया कि आरोपी ने कहा था कि इसके लिए पहले सभी लोगों को पंजीकरण कराना होगा. फर्जी रजिस्‍ट्रेशन के नाम पर आरोपी ने लोगों को 50-50 रुपये में एक फॉर्म दिया था. आरोपी ने कहा था कि आयुष्‍मान भारत के लिए 25 सितंबर से 2 अक्‍टूबर के बीच ही पंजीकरण का काम होगा. 

इसके लिए शुरुआत में 300 लोगों ने फॉर्म भरा और फिर बाद में महेश चंद ने 26 सितंबर कॉलोनी के तकरीबन 150 अन्‍य लोगों से 50-50 रुपये में फॉर्म बेचा. हालांकि इसी दिन उसकी ठगी का खुलासा हो गया.

पढ़ें- PM मोदी के लिए बाबा रामदेव ने कहा ऐसा, खुद को बताया..

दरअसल, कॉलोनी के कुछ लोगों के द्वारा इसकी सूचना बीजेपी युवा मोर्चा के नेताओं को मिली तो मोर्चा ने सांसद और केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा के प्रतिनिधि संजय बाली को इससे अवगत कराया. दूसरी बार आरोपी फॉर्म जमा ही कर रहा था कि भाजयुमो के कार्यकर्ता वहां पहुंच गए और उन्‍होंने तत्‍काल इसकी सूचना को पुलिस को दी.

महेश चंद ने भागने की कोशिश की लेकिन स्‍थानीय निवासियों ने उसे दबोच लिया. पुलिस ने उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 420 के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है. आपको बता दें कि आयुष्‍मान भारत योजना के तहत स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाएं लेने के लिए गोल्‍डन कार्ड अनिवार्य नहीं है. लाभार्थियों को अपना पंजीकरण कराना होगा.

First published: 27 September 2018, 14:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी