Home » इंडिया » PM Modi on death of Arun Jaitley says I have lost a valued friend
 

PM मोदी ने 'दोस्त' अरुण जेटली के निधन पर जो लिखा वह पढ़कर भावुक हो जाएंगे आप

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 August 2019, 14:20 IST

देश के पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का 67 साल की उम्र में दिल्ली के एम्स में निधन हो गया. उनके निधन पर बीजेपी में शोक की लहर दौड़ गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अरुण जेटली के निधन पर गहरा दुख जताया है. प्रधानमंत्री मोदी ने अरुण जेटली को श्रद्धांजलि देते हुए लगातार पांंच ट्वीट किया.

प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा, "मैंने एक अहम दोस्त खो दिया है, जिन्हें दशकों से जानने का सम्मान मुझे प्राप्त था. मुद्दों पर उनकी समझ बहुत अच्छी थी. वो हमें अनेक सुखद स्मृतियों के साथ छोड़ गए. हम उन्हें याद करेंगे."

इसके अलावा पीएम मोदी ने लिखा कि बीजेपी और अरुण जेटली के बीच एक ना टूटने वाला बंधन था. एक तेजस्वी छात्र नेता के तौर पर उन्होंने आपातकाल के समय हमारे लोकतंत्र की सबसे आगे आकर रक्षा की थी. पीएम मोदी ने लिखा कि वो बीजेपी का लोकप्रिय चेहरा थे. जिन्होंने समाज के अलग-अलग तबकों तक पार्टी के कार्यकर्मों और विचारों को स्पष्ट रूप से पहुंचाया.

प्रधानमंत्री मोदी ने संयुक्त अरब अमीरात से जेटली के परिवार से बात की है. पीएम ने जेटली की पत्नी और उनके बेटे से बात की और संवेदना जाहिर की. पीएम मोदी इस वक्त विदेश के दौरे पर हैं. जेटली के परिवार ने पीएम मोदी से अपील की है कि वे अपना विदेश दौरा रद्द ना करें. पीएम मोदी तीन देशों के दौरे पर हैं.

अरुण जेटली के निधन पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी ट्वीट कर शोक जताया है. उन्होंने इसे अपनी निजी क्षति बताया है. इसके अलावा उन्होंने हैदराबाद का अपना कार्यक्रम रद्द कर दिया है. उन्होंने ट्वीट किया, "अरुण जेटली जी के निधन से अत्यंत दुःखी हूं, जेटली जी का जाना मेरे लिये एक व्यक्तिगत क्षति है. उनके रूप में मैंने न सिर्फ संगठन का एक वरिष्ठ नेता खोया है बल्कि परिवार का एक ऐसा अभिन्न सदस्य भी खोया है जिनका साथ और मार्गदर्शन मुझे वर्षो तक प्राप्त होता रहा."

जेटली के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी ट्वीट किया. उन्होंने लिखा, "अरुण जेटली के निधन से बहुत दुखी हूं. उन्होंने साहस और गरिमा के साथ लंबी बीमारी से जंग लड़ी. वह एक प्रतिभाशाली वकील, अनुभवी सांसद और प्रतिष्ठित मंत्री थे. उन्होंने राष्ट्र के निर्माण में बड़ा योगदान दिया."

First published: 24 August 2019, 14:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी