Home » इंडिया » pm modi pays tribute at tomb of bahadur shah zafar in yangon on his Myanmar visit.
 

भारत के आखिरी मुगल शासक बहादुर शाह जफर की दरगाह में पहुंचे मोदी, चढ़ाए फूल और छिड़का इत्र

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 September 2017, 14:50 IST
(modi twitter account)

भारत के प्रधानमंत्री पीएम मोदी अपने म्यांमार दौरे के दिन यंगून पहुंचे. मोदी गुरुवार को भारत के आखिरी मुगल शासक बहादुर शाह जफर की मज़ार पर पहुंचे. पीएम ने बहादुर शाह जफर की मजार पर फूल भी चढ़ाए और इत्र भी छिड़का. 

पीएम मोदी से पहले पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी 2012 में बहादुर शाह जफर की दरगाह पर गए थे. भारत के आखिरी मुगल बादशाह बहादुर शाह जफर की मौत 1862 में बर्मा में जो अब म्यांमार की राजधानी रंगून यानी अब यंगून की जेल में हुई थी. यह दरगाह उनकी मौत के 132 साल बाद 1994 में बनी.

ब्रिटिश काल में दिल्ली की गद्दी पर बैठने वाले आखिरी शासक थे. वह अपनी कविताओं और गजलों के लिए भी जाने जाते थे. उनकी दरगाह दुनिया की मशहूर दरगाहों में से एक है. 1857 में ब्रिटिशों ने तकरीबन पूरे भारत पर कब्जा जमा लिया था तो उन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई का नेतृत्व किया पर वो हार गए. 

बहादुर शाह जफर ने हुमायूं के मकबरे में शरण ली, लेकिन मेजर हडस ने उन्हें उनके बेटे मिर्जा मुगल और खिजर सुल्तान व पोते अबू बकर के साथ पकड़ लिया. देश से निर्वासित कर रंगून (आज यंगून) भेज दिया. 1862 में अंग्रेजों की कैद में ही 7 नवंबर, 1862 को बहादुर शाह जफर की मौत हो गई. 

बहादुरशाह जफर की दरगाह में फूल चढ़ाने के बाद पीएम मोदी वापस दिल्ली के लिए रवाना हो गए. इससे पहले वे कालीबाड़ी मंदिर पहुंचे. वहां पर पूजा भी की. म्यांमार दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने म्यांमार की स्टेट काउंसलर आंग सान सू की के साथ डेलिगेशन लेवल की वार्ता की. दोनों नेताओं ने वार्ता के बाद साझा प्रेस वार्ता को संबोधित किया. भारत और म्यांमार के बीच कुल 11 समझौते हुए.

First published: 7 September 2017, 14:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी