Home » इंडिया » Independence Day 2020: PM Modi says This is a day to remember the sacrifices of our freedom fighters
 

Independence Day 2020: लाल किले की प्राचीर से बोले पीएम मोदी, आज का दिन स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान को याद करने का दिन

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 August 2020, 9:38 IST

Independence Day 2020: भारत (India) आज अपनी आजादी का 73 साल पूरे होने का जश्न मना रहा है. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने दिल्ली में लाल किले (Red Fort) पर तिरंगा फहराया है. इससे पहले प्रधानमंत्री सुबह करीब सवा सात बजे राजघाट (Rajghat) पहुंचे जहां उन्होंने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) को श्रद्धांजलि दी. उसके बाद वह लाल किला पहुंचा जहां सबसे पहले तीनों सेनाओं ने पीएम मोदी को गार्ड ऑफ ऑनर (guard of honour) दिया. उसके बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने उनका स्वागत किया.

उसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तिरंगा फहराया. तिरंगा फहराने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि आज का दिन हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान को याद करने का दिन है. उन्होंने ये भी कहा कि ये दिन सेना, अर्धसैनिक और पुलिस समेत सुरक्षाकर्मियों के आभार व्यक्त करने का दिन है जो हमारी सुरक्षा सुनिश्चित करते हैं. कोरोना वायरस के चलते स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बरती गई सख्ती को देखते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम अलग समय से गुजर रहे हैं. मैं आज (लाल किले पर) मेरे सामने छोटे बच्चों को नहीं देख सकता. कोरोना ने सभी को रोक दिया है.


Hapur: 6 साल की बच्ची से रेप के आरोपी को पुलिस ने मारी गोली, बचने के लिए रची थी मौत की झूठी साजिश

कोविड के इस समय में कोरोना योद्धाओं ने 'सेवा परमो धर्म' के मंत्र को जिया है और भारत के लोगों की सेवा की है. मैं उनके प्रति आभार व्यक्त करता हूं. प्रधानमंत्री ने लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कहा कि कोरोना वायरस महामारी ने 130 करोड़ भारतीयों को आत्मनिर्भर होने का संकल्प दिया है. भारत आत्मनिर्भर है और यह सपना एक प्रतिज्ञा में बदल रहा है. उन्होंने कहा कि आज भारत के 130 करोड़ भारतीयों के लिए 'मंत्र' बन गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि भारत आत्मनिर्भर बनने के सपने को साकार करेगा.

अमित शाह की कोरोना रिपोर्ट आई निगेटिव, खुद ट्वीट कर दी जानकारी

मुझे अपने साथी भारतीयों की क्षमताओं, आत्मविश्वास और क्षमता पर भरोसा है. एक बार जब हम कुछ करने का निर्णय लेते हैं, तब तक हम आराम नहीं करते हैं जब तक कि हम उस लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर लेते हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, ऐसा कभी नहीं हुआ कि भारत की गुलामी के समय में ऐसा कोई हिस्सा था, जिसमें देश को आज़ाद करने का कोई प्रयास नहीं किया गया और न ही किसी ने आज़ादी के लिए बलिदान दिया.

Independence Day 2020: लाल किले की प्राचीर से सातवीं बार पीएम मोदी का राष्ट्र के नाम संबोधन

Independence Day 2020: वो महिला जिसने आजादी के 40 साल पहले ही विदेश में फहराया था भारत का तिरंगा

पीएम मोदी ने कहा कि मैं इस बात से सहमत हूं कि आत्मनिर्भर भारत के लिए लाखों चुनौतियां है वैश्विक प्रतिस्पर्धा है, हालांकि लाखों चुनौतियों के बावजूद भारत के पास करोड़ों समाधान हैं. उन्होंने कहा कि मेरे देशवासी हमें समाधान की ताकत देते हैं. मोदी ने कहा कि कुछ महीने पहले हम N-95 मास्क, पीपीई किट और वेंटिलेटर आयात करते थे, आज भारत न केवल अपनी आवश्यकताओं को पूरा कर रहा है, बल्कि अन्य देशों की मदद के लिए भी आगे बढ़ रहा है. अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि आजाद भारत की मानसिकता 'वोकल फॉर लोकल' के लिए होनी चाहिए. हमें अपने स्थानीय उत्पादों की सराहना करनी चाहिए, यदि हम ऐसा नहीं करते हैं तो हमारे उत्पादों को बेहतर करने का अवसर नहीं मिलेगा और इसे बढ़ावा नहीं मिलेगा.

Independence Day 2020: देश के नाम संबोधन में राष्ट्रपति कोविंद ने चीन को दिया संदेश, अशांति पैदा करने वालों को मिलेगा जवाब

First published: 15 August 2020, 8:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी