Home » इंडिया » PM Modi to reshuffle his cabinet on Tuesday
 

मोदी मंत्रिमंडल में फेरबदल: इन सांसदों के आएंगे 'अच्छे दिन'

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 July 2016, 22:32 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने कैबिनेट में बदलाव और विस्तार करने जा रहे हैं. मंगलवार को 11 बजे राष्ट्रपति भवन  में नए मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई जाएगी.

बीजेपी सूत्रों के अनुसार सरकार में शामिल जिन मंत्रियों का रिपोर्ट कार्ड बेहतर नहीं रहा है उन पर गाज गिरनी तय है. वहीं पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान और मुख्तार अब्बास नकवी को प्रमोट कर कैबिनेट मंत्री बनाया जा सकता है. मोदी सरकार में फेरबदल अगले साल होने जा रहे उत्तरप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, गुजरात और पंजाब विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखकर किया जाएगा.

नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में इस समय मोदी को मिलाकर 27 कैबिनेट मंत्री, 13 स्वतंत्र प्रभार के मंत्री और 25 राज्य मंत्री हैं. बीजेपी सूत्रों के अनुसार मंत्रिमंडल के फेरबदल पर उत्तर प्रदेश हावी होने जा रहा है. राज्य से कई चेहरे हैं जो मोदी की टीम का हिस्सा बनने जा रहे हैं.

उत्तर प्रदेश में गैर-यादव वोटों के मद्देनजर बीजेपी की सहयोगी पार्टी अपना दल की सांसद अनुप्रिया पटेल को कैबिनेट में जगह दी जाएगी. अनुप्रिया कुर्मी जाति से आती हैं. पूर्वांचल की कई सीटों पर उनके समुदाय की महत्वपूर्ण उपस्थिति है. पटेल के अलावा शाहजहांपुर से सांसद कृष्णा राज और चंदौली से सांसद महेंद्र नाथ पांडे को भी मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने की संभावना है.

गुजरात से राज्यसभा सांसद पुरुषोतम रुपाला,  महाराष्ट्र से राज्यसभा सांसद रामदास अठावले, उत्तराखंड से सांसद अजय टम्टा, बीजेपी नेता एसएस अहलुवालिया, बीकानेर से सांसद अर्जुन राम मेघवाल, पाली से सांसद पीपी चौधरी, मांडला से सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते, राज्यसभा सांसद विजय गोयल, एमजे अकबर, अनिल माधव दवे, मनसुखभाई मंडविया, सुभाष भामरे और जसवंत सिंह भाबोर को मोदी मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है.

सरकार में शामिल सूत्रों के अनुसार केन्द्रीय पंचायती राज राज्यमंत्री निहालचंद की विदाई तय है. उनके अलावा आगरा से सांसद और केंद्रीय मानव संसाधन राज्यमंत्री रामशंकर कठेरिया की मंत्रिमंडल से छुट्टी हो सकती है.

इससे पहले मोदी सरकार बनने के बाद सिर्फ एक बार नवंबर, 2014 में कैबिनेट में बदलाव हुआ. उस समय शिवसेना से आए सुरेश प्रभु और गोवा के सीएम रहे मनोहर पर्रिकर को कैबिनेट में शामिल किया गया. प्रभु को रेल मंत्री जबकि पर्रिकर को रक्षा मंत्री बनाया गया था.

First published: 4 July 2016, 22:32 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी