Home » इंडिया » pm modi varanasi visit with french president emmanuel macron inaugurate Solar Power Plant in mirzapur
 

फ्रांसीसी 'दोस्त' संग वाराणसी में नौका विहार करेंगे पीएम मोदी, देंगे सोलर पार्क की सौगात

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 March 2018, 10:01 IST

फ्रांस के राष्ट्रपति और पीएम मोदी के दोस्त इमैनुएल मैक्रों भारत के दौरे पर हैं. आज(12 मार्च) को पीएम मोदी के साथ वह उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी का दौरा करेंगे. फ्रांसीसी राष्ट्रपति वाराणसी में पीएम मोदी के साथ गंगा में नाव की सवारी कर सकते हैं.

फ्रांस के राष्ट्रपति के सम्मान में प्रधानमंत्री मोदी दोपहर का भोज भी देंगे. 12 मार्च की सुबह इमैनुएल मैक्रों के साथ पीएम मोदी बाबतपुर एयरपोर्ट से मिर्जापुर जाएंगे, जहां दोनों सौर ऊर्जा संयंत्र का उद्घाटन करेंगे. दोपहर में प्रधानमंत्री मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन पहुंचेंगे. वह यहां से पटना जाने वाली नई ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे.

मिर्जापुर में सोलर पार्क के लोकार्पण के बाद दोनों नेता गंगा और घाटों के दर्शन के साथ-साथ काशी की विरासत के साक्षी बनेंगे. इन ऐतिहासिक क्षणों में मैक्रों के साथ उनकी पत्नी मैरी क्लाउड भी होंगी. पीएम मोदी इस दौरान अपने संसदीय क्षेत्र में 55 करोड़ 72 लाख रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण और 718.87 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे.

 

इसके पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को मिर्जापुर में सोलर पार्क के लोकार्पण कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लिया. उन्होंने यहां पत्रकारों से कहा कि प्रदेश सरकार प्रदूषण रहित ऊर्जा की दिशा में कार्य कर रही है. पिछले दिनों लखनऊ में आयोजित इन्वेस्टर्स समिट में प्रदेश में एक हजार मेगावाट क्लीन एनर्जी का उत्पादन करने के लिए समझौता किया गया है.

गौरतलब है कि लोकार्पण के बाद मिर्जापुर में स्थापित प्लांट से प्रतिदिन 75 मेगावाट (पांच लाख यूनिट) बिजली का उत्पादन शुरू हो जाएगा. 650 करोड़ रुपये से फ्रांस की सोलर डायरेक्ट कंपनी और नेडा ने सोलर पार्क संयुक्त रूप से बनाया है. कंपनी से करार के अनुसार प्रदेश सरकार को चार रुपये प्रति यूनिट की दर से बिजली मिलेगी.

 

बता दें कि फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों चार दिन के दौरे पर भारत में हैं. मैक्रों शुक्रवार देर रात दिल्ली पहुंचे थे, जहां एयरपोर्ट जाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद उनका स्वागत किया था.

यह पहली बार नहीं है कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसी दूसरे देश के राष्ट्राध्यक्ष को वाराणसी ले जाएंगे. इससे पहले जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे को भी वाराणसी ले गए थे, दोनों नेताओं ने वहां गंगा आरती में भी हिस्सा लिया था.

First published: 12 March 2018, 9:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी