Home » इंडिया » PM Modi will present the gift to Bihar today, PMMSY worth Rs 20,050 crore will be launched
 

PM मोदी ने बिहार में लॉन्च की 20,050 करोड़ की 'प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना' और ई- गोपाला ऐप

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 September 2020, 15:12 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बटन दबाकर 'प्रधान मंत्री मत्स्य सम्पदा योजना (PMMSY) को डिजिटल रूप से लॉन्च किया. पीएम ने बिहार में मत्स्य पालन और पशुपालन क्षेत्रों में कई अन्य पहलों के साथ-साथ किसानों के लिए ई-गोपाला ऐप भी लॉन्च किया. केंद्र की 20,050 करोड़ की यह योजना मई में कैबिनेट द्वारा अनुमोदित की गई थी, जो 20 लाख करोड़ के प्रोत्साहन पैकेज का हिस्सा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में मत्स्य पालन और पशुपालन क्षेत्रों में कई अन्य पहलों के साथ-साथ किसानों के लिए ई-गोपाला ऐप भी लॉन्च किया.

पीएम ने कहा ''आज जितनी भी ये योजनाएं शुरू हुई हैं उनके पीछे की सोच ही यही है कि हमारे गांव 21वीं सदी के भारत, आत्मनिर्भर भारत की ताकत बनें, ऊर्जा बनें. उन्होंने कहा आज देश के 21 राज्यों में प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का शुभारंभ हो रहा है. अगले 4-5 वर्षों में इस पर 20 हज़ार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च किए जाएंगे. इसमें से आज 1700 करोड़ रुपए का काम शुरु हो रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा ''पीएम किसान सम्मान निधि से देश के 10 करोड़ से ज्यादा किसानों के बैंक खातों में सीधा पैसा पहुंचाया गया है. इसमें करीब 75 लाख किसान बिहार के भी हैं. अब तक करीब 6 हज़ार करोड़ रुपए बिहार के किसानों के बैंक खाते में जमा हो चुके हैं''.


प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने बुधवार को जानकारी दी कि बिहार में मत्स्य पालन और पशुपालन क्षेत्र में कई अन्य कदम भी प्रधानमंत्री द्वारा उठाये जायेंगे. पीएम मोदी द्वारा ये सभी उद्घाटन बिहार चुनाव से कुछ महीने पहले किए जा रहे हैं, जहां जनता दल (यूनाइटेड) और NDA गठबंधन को रिवर्स माइग्रेशन, बेरोजगारी, बाढ़ और कोविड -19 प्रबंधन पर कठिन सवालों का सामना करना पड़ रहा है. चुनाव आयोग ने संकेत दिया है कि 29 नवंबर को विधानसभा का कार्यकाल समाप्त होने से पहले मतदान प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी.

आत्म निर्भर भारत पैकेज के हिस्से के रूप में PMMSY का उद्देश्य प्रमाणित गुणवत्ता वाले फिश सीड और फीड की उपलब्धता में सुधार करना है. जून में पीएम मोदी ने कोरोना वायरस के प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए लगाए गए राष्ट्रव्यापी लॉक डाउन के दौरान अपने गांवों को वापस आये प्रवासी मज़दूरों के लिए गरीब कल्याण रोज़गार अभियान की शुरुआत की थी. केंद्र डायरेक्ट बेनिफिट ट्रंसफर मॉडल का लाभ उठाकर ग्रामीण परिवारों को कैश ट्रांसफर में तेजी लाने की कोशिश कर रहा है.

बुधवार को बेरोजगारी के विरोध में प्रदर्शन करते हुए आरजेडी नेता तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव और राबड़ी देवी ने लालटेन जलाई. RJD नेता तेजस्वी यादव ने कहा "सबसे ज्यादा युवाओं की आबादी बिहार में है लेकिन हकीकत में बिहार बेरोजगारी का केंद्र बन चुका है.

भारतीय वायुसेना में आज शामिल होंगे पांच राफेल लड़ाकू विमान, कार्यक्रम में शामिल होंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

First published: 10 September 2020, 8:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी