Home » इंडिया » PM Narendra Modi address 44th Mann Ki Baat programme praise Savarkar
 

मन की बात में पीएम मोदी ने जमकर किया सावरकर का गुणगान, बताए 'सावरकर होने के मायने'

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 May 2018, 12:43 IST
(pmo )

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' के जरिए एक बार फिर देश को संबोधित किया. मन की बात कार्यक्रम का ये 44वां एपिसोड था. इस एपिसोड में उन्होंने खेल पर जोर दिया. लेकिन इसकी सबसे खास बात रही इस कार्यक्रम में सावरकर का गुणगान करना.

पीएम मोदी ने वीर सावरकर को एक साहसिक क्रांतिकारी बताते हुए उनकी तारीफ में जमकर कसीदे पढ़े. पीएम ने कहा कि वीर सावरकर का जन्म मई महीने में हुआ था और उन्होंने ही 1857 की लड़ाई को विद्रोह के बजाय आजादी की लड़ाई कहा था.

पीएम ने इसके अागे कहा, "सावरकर जी का व्यक्तित्व विशेषताओं से भरा था. वे शस्त्र और शास्त्र दोनों के उपासक थे. आमतौर पर वीर सावरकर को उनकी बहादुरी और ब्रिटिश राज के खिलाफ उनके संघर्ष के लिए जानते हैं, लेकिन इस सबके अलावा वे एक ओजस्वी कवि और समाज सुधारक भी थे, जिन्होंने हमेशा सद्भावना और एकता पर बल दिया."

पीएम ने कहा, "1857 में ये मई का ही महीना था जब भारतवासियों ने अंग्रेजों को अपनी ताकत दिखाई थी. देश के कई हिस्सों में हमारे जवान और किसान अपनी बहादुरी दिखाते हुए अन्याय के विरोध में खड़े हुए थे. दुख की बात है कि हम बहुत लंबे समय तक 1857 की घटनाओं को केवल विद्रोह या सिपाही विद्रोह कहते रहे. वह वीर सावरकर ही थे जिन्होंने निर्भीक होकर लिखा कि 1857 में जो कुछ हुआ वह विरोध नहीं बल्कि आजादी की पहली लड़ाई थी."

पढ़ें- पेट्रोल-डीजल की तुलना इंटरनेट डेटा से करने वालों को यह भी समझना होगा ?

बता दें कि 'मन की बात' कार्यक्रम का पहला प्रसारण 3 अक्टूबर 2014 को हुआ था. यह आकाशवाणी पर प्रसारित होता है. इसके जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत के नागरिकों को संबोधित करते हैं.

First published: 27 May 2018, 12:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी