Home » इंडिया » PM Narendra Modi and Amit Shah hand over the urns carrying ashes of Atal Bihari Vajpayee to Presidents of all states
 

पीएम मोदी और अमित शाह ने भाजपा के अध्यक्षों को सौंपे अटल बिहारी वाजपेयी के अस्थि कलश

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 August 2018, 13:15 IST

भाजपा के संंस्थापक सदस्य और भारते के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश को गुरुवार को भाजपा के सभी राज्य अध्यक्षों को सौंपा गया. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अपने दिग्गज नेता के अस्थि कलश को इन्हें सौपा. इस मौके पर उनकी पुत्री नमिता भट्टाचार्य भी मौजूद थीं. 

पूर्व प्रधानमंत्री की अस्थियां देश भर की नदियों में प्रवाहित की जाएंगी. सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के भाजपा अध्यक्ष अपने-अपने राज्यों में पूर्व पीएम की अस्थियों का कलश लेकर जाएंगे. इसके बाद देश के हर राज्य में उनको श्रद्धांजलि देने के लिए अस्थि कलश यात्रा निकाली जाएगी. 

ये भी पढ़ें- हरिद्वार: अटल बिहारी वाजपेयी हर की पौड़ी के ब्रह्मकुंड मेें हुए लीन, अस्थियां गंगा में प्रवाहित

गुरुवार को भाजपा के अशोका रोड स्थित भारतीय जनता पार्टी के मुख्यालय में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया. यहां मोदी-शाह के अलावा केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज सहित कई नेता शामिल हुए. इन लोगो ने राज्यों के प्रदेश अध्यक्षों को वाजपेयी जी के अस्थि कलश सौंपे. वाजपेयी की अस्थियां देश की 100 से अधिक नदियों में प्रवाहित की जायेगी. ये कार्यक्म पूरे विधि विधान के साथ होगा.

ये भी पढ़ें- अटल बिहारी वाजपेयी को हराने के लिए मैदान में उतरे कई बॉलीवु़ड के दिग्गज, लेकिन नहीं नसीब हुई जीत

भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, "पार्टी का हर सिपाही एवं देश का हर नागरिक कालजयी व्यक्तित्व वाजपेयी जी को सम्मानपूर्वक श्रद्धांजलि अर्पित करना चाहते हैं. इस क्रम में पार्टी ने देश के सभी राज्यों में दिवंगत वाजपेयी जी की अस्थि कलश यात्रा निकालने का निश्चय किया है ताकि राष्ट्र अपने महान सपूत को श्रद्धा-सुमन अर्पित कर सके."

गौरतलब है कि 16 अगस्त को करीब शाम 5 बजे देश के पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी का निधन अखिल भारतीय आर्युवेदिक संंस्थान(एम्स) में हुआ था. उन्हें किडनी में संक्रमण के अलावा यूरिन में कमी और सांस की तकलीफ थी. वो करीब नौ हफ्ते एम्स में भर्ती रहे थे.

ये भी पढ़ें- अटल बिहारी वाजपेयी का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार, बेटी ने दी मुखाग्नि

गौरतलब है कि 19 अगस्त को आयोजित एक कार्यक्रम में देवभूमि के नाम से मशहूर उत्तराखंड के हरिद्वार में अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा निकाली गई थी. इसके बाद हर की पौड़ी में पवित्र गंगा नदी में वाजपेयी की अस्थियां प्रवाहित की गई थीं.  इस दौरान वाजपेयी के परिजनों के साथ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे.

ये भी पढ़ें- अटल बिहारी वाजपेयी की अंंतिम यात्रा में हाथ जोड़े पीछे-पीछे चले मोदी-शाह

First published: 22 August 2018, 13:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी