Home » इंडिया » PM Narendra Modi LK Advani inaugurates BJP's new headquarters at Delhi's Deen Dayal Upadhyaya Marg but curtain trapped
 

जब भाजपा मुख्यालय के उद्घाटन के दौरान मोदी-आडवाणी खींचते रह गए परदे की डोर...

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 February 2018, 14:09 IST

देश की राजधानी नई दिल्ली स्थित भारतीय जनता पार्टी के नए मुख्यालय का रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उद्घाटन किया. पार्टी हेडक्वाटर के उद्घाटन के दौरान कुछ देर के लिए एक अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई और सभी अतिथिजनों के साथ-साथ प्रधानमंत्री मोदी भी सकते में आ गए. जब पीएम मोदी को शिलापट पर लगा परदा हटाना था.

दरअसल, भाजपा के हजारों कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी लोगों का अभिवादन स्वीकार करते हुए पार्टी मुख्यालय के उद्घाटन स्थल तक पहुंचे. वहां भाजपा मुख्यालय की शिलापट लगी थी, जिस पर लगा बड़ा परदा हटाकर पीएम मोदी को अपनी पार्टी के कार्यालय का उद्घाटन करना था.

 

इस दौरान पीएम मोदी के साथ गृहमंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और मुरली मनोहर जोशी खड़े थे. पीएम मोदी के साथ-साथ सभी लोग भाजपा के मार्गदर्शक मंडल के सदस्य लालकृष्ण आडवाणी का इंतजार करने लगे. इसके बाद कुछ ही देर में लालकृष्ण आडवाणी सभी लोगों के पास आए और बाकी बचे कार्य को अंजाम देने लगे.

ये भी पढ़ेंः भाजपा ने बदला अपना ठिकाना, दुनिया का सबसे बड़ा पार्टी दफ्तर है भाजपा मुख्यालय

इसी बीच एलके आडवाणी समेत पीएम मोदी और पार्टी के तमाम बड़े चेहरे पर्दा हटाने के लिए डोर को खींचने लगे. लेकिन एक अजीब स्थित तब पैदा हो गई जब शिलापट पर लगा पर्दा थोड़ा सरकने के बाद कहीं फंस गया. इसके बाद मंच पर विरजमान पांचों बड़े नेताओं ने परदे की डोर को थोड़ा और जोर से खींचा लेकिन परदा टस से मस नहीं हुआ.

 

हालांकि सभी की तरफ से थोड़ी कोशिश और की गई लेकिन फिर भी परदा नहीं हटा. इसके बाद गृहमंत्री राजनाथ ने ने आगे बढ़कर अपने हाथ से ही शिलापट पर लगे परदे को हटा दिया. बाद में शिलापट पर लगे परदे को दूसरी डोर से बांधा गया. फिर सभी लोगों ने तालियां बजाकर पार्टी मुख्यालय के उद्घाटन की खुशी जताई. इस बीच शिलापट का परदा फंसने से कुछ सेकेंड के लिए वहां खड़े सभी नेताओं के लिए एक असहज की स्थिति पैदा हो गई, जिसे समय रहते संभाल लिया गया.

First published: 18 February 2018, 14:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी