Home » इंडिया » PM Narendra modi on Atal Bihari Vajpayee prayer meeting says His efforts ensured India became nuclear power
 

अपने राजनीतिक सखा अटल को लेकर फिर भावुक हुए आडवाणी- बोले- मैंने उनसे काफी कुछ पाया

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 August 2018, 18:07 IST

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने के लिए दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में सार्वजनिक, सर्वदलीय प्रार्थना सभा का आयोजन जा रहा है. इस सभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित बीजेपी और विपक्ष के कई नेता शामिल हुए हैं.

प्रार्थना सभा में योगगुरु बाबा रामदेव और आध्यात्म की दुनिया से जुड़े लोग भी पहुंचे हैं. पीएम मोदी प्रार्थना सभा को संबोधित कर रहे हैं. पीएम मोदी ने कहा है कि अटल बिहारी वाजपेयी ने देश के लिए अपनी जिंदगी को न्योछावर कर दिया. अटलजी ने अपना सारा जीवन देश के लोगों के लिए जिया. 

प्रार्थना सभा में पीएम मोदी ने कहा कि अटलजी का जीवन भारत के लोगों के लिए था. उन्होंने युवावस्था में ही फैसला कर लिया था कि उनको देश की सेवा करनी है. जिस समय अटलजी ने राजनीति में प्रवेश किया उस दौरान एक ही पार्टी की चर्चा थी. वह पूरे जीवनभर केवल एक ही पार्टी में रहे. उन्होंने विपक्ष में कई साल गुजारे लेकिन उन्होंने कभी भी अपनी विचारधारा से समझौता नहीं किया.

पीएम मोदी ने 11 मई को परमाणु परीक्षण अटल जी की दृढ़ता की वजह से हुआ. उसके बाद दुनिया ने भारत पर प्रतिबंध लगा दिया. लेकिन ये अटल थे जो 11 मई को परीक्षण के बाद 13 मई को एक बार फिर दुनिया को चुनौती देते हुए भारत की ताकत का अहसास कराया. उन्होंने कहा कि जीवन कितना लंबा हो यह हमारे हाथ में नहीं है, लेकिन जीवन कैसा हो, ये हमारे हाथ में है और अटल जी ने जी करके दिखाया कि जीवन कैसा हो, क्यों हो, किसके लिए हो और कैसे हो. पीएम मोदी ने कहा कि अटल जी नाम से ही अटल नहीं थे उनके व्यवहार में भी अटल भाव नजर आता है.

वहीं, लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि मैंने अपने जीवन में कई सभाएं संबोधित की है, लेकिन आज जैसी सभा को संबोधित करूंगा कभी नहीं सोचा था. मैं खुद को सौभाग्यशाली मानता हूं कि मेरी अटलजी से 65 साल की मित्रता थी. अटलजी खाना बहुत अच्छा बनाते थे. अटल जी भोजन बहुत अच्छा पकाते थे, वे चाहे खिचड़ी ही सही. मैंने अटल जी से बहुत कुछ पाया है.

ये भी पढ़ें- हरिद्वार: अटल बिहारी वाजपेयी हर की पौड़ी के ब्रह्मकुंड मेें हुए लीन, अस्थियां गंगा में प्रवाहित

First published: 20 August 2018, 17:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी