Home » इंडिया » PM Narendra Modi says India has entered its name as an elite space power
 

मोदी 'राज' में भारत ने हासिल किया वो मुकाम जो सिर्फ अमेरिका, रूस और चीन कर पाए

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 March 2019, 13:35 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम अपने संबोधन में बताया कि भारत अंतरिक्ष में महाशक्ति बन गया है. भारत ने अंतरिक्ष में वह मुकाम हासिल किया है जो दुनिया के मात्र तीन देश अमेरिका, रूस और चीन ही हासिल कर पाए हैं. भारत ने मात्र तीन मिनट में मिशन 'शक्ति' द्वारा LEO में सेटेलाइट को मार गिराया है. अब तक दुनिया के तीन देश अमेरिका, रूस और चीन को यह उपलब्धि हासिल थी.

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में बताया कि LEO सैटेलाइट को मार गिराना पूर्व निर्धारित लक्ष्य था, इस मिशन को मात्र 3 मिनट में पूरा किया गया है. पीएम मोदी ने बताया कि मिशन शक्ति बहुत कठिन था. वैज्ञानिकों की मानें तो इस मिशन द्वारा उन सैटेलाइट्स को मार गिराया जा सकता है, जो दुश्मन देशों की ओर से अंतरिक्ष में स्थापित किए गए हैं.

इनकी मदद से दुश्मन देश हमारे यहां की हर गतिविधि पर नजर रखते हैं. एंटी सैटेलाइट एसेट के माध्यम से ऐसे सैटेलाइट को मार गिराने में सफलता मिलेगी. पीएम मोदी ने बताया कि भारत ने यह ऑपरेशन कर खुद को मजबूत कर लिया है. उन्होंने बताया कि आज हम अंतरिक्ष की चौथी महाशक्ति बन गए हैं.

पीएम ने बताया कि ऑपरेशन द्वारा भारत ने किसी भी अंतरराष्ट्रीय कानून, संधि और समझौते का उल्लंघन नहीं किया है. पीएम मोदी ने अपने संदेश में DRDO की टीम को बधाई दी. पीएम मोदी ने कहा कि भारत ने अंतरिक्ष सुरक्षा में जो काम किया है उसका मूल उद्देश्य भारत को एक सुरक्षित, समृद्ध और शांतिप्रिय राष्ट्र की ओर बढ़ाना है.

एंटी सेटेलाइट वेपन क्या है?

भारत द्वारा प्रक्षेप किया किया एंटी सैटेलाइट वेपन एक हथियार है. इसका इस्तेमाल खासतौर पर सैन्य से अंतरिक्ष में सैटेलाइट्स को तबाह करने के लिए किया जाता है. अब भारत एंटी सैटेलाइट (ए सेट) के द्वारा अपने अंतरिक्ष कार्यक्रमों को सुरक्षित रख पाएगा. DRDO और ISRO के संयुक्त प्रयास से भारत को ये सफलता हासिल हुई है. 

अखिलेश यादव को मात देने के लिए BJP का बड़ा दांव, भोजपुरी सुपरस्टार को आजमगढ़ से देगी टिकट !

First published: 27 March 2019, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी