Home » इंडिया » Pm Modi and nitish came together for election 2019, after 9 years share stage together
 

लोकसभा चुनावों के लिए मोदी-नीतीश ने भुलाई तकरार, 9 साल बाद साझा करेंगे मंच

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 January 2019, 14:29 IST

देश की पांच विधान सभाओं में हुए चुनावों में हार का मुंह देखने के बाद अब भारतीय जनता पार्टी पूरी ताकत से लोकसभा चुनावों की तैयारियों में जुट गई है. एक तरफ बीजेपी के स्टार प्रचारक अमित शाह समेत भाजपा के बड़े नेताओं की चुनावी रैलियां शुरू हो गयी है तो दूसरी तरफ जीत के लिए खुद प्रधानमंत्री मोदी हरसंभव कोशिश में लगे हुए हैं. इसी क्रम में प्रधानमंत्री मोदी बिहार में चुनावी सभा करने वाले हैं.

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर बीजेपी की हर रैली को महत्वपूर्ण बताया जा रहा है लेकिन बिहार की ये रैली इसलिए और ज्यादा ख़ास बन गयी है क्योंकि यहां 9 साल बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पीएम मोदी एक ही मंच साझा करने वाले हैं. गौरतलब है कि बिहार एनडीए में सीट बंटवारे के बाद ऐसा पहला मौका है जब पीएम मोदी कोई चुनावी सभा को संबोधित करने वाले हैं.


इसी सभा में पीएम मोदी के साथ नीतीश कुमार भी मंच पर दिखेंगे. करीब नौ साल बाद दोनों एक साथ किसी मंच पर दिखाई देंगे. पटना में होने वाली ये महारैली 3 मार्च का हो सकती है. ऐसे में सभी की निगाहें नितीश मोदी की इस जोड़ी पर रहने वाली हैं. ऐसा कहा जा रहा है कि कभी पीएम मोदी से जुबानी जंग लड़ने वाले नितीश कुमार इस मंच से मोदी के लिए लोगों से अपील करते दिखाई दे सकते हैं.

राहुल गांधी को बड़ा झटका, बिहार महागठबंधन से भी बाहर रहेगी कांग्रेस, क्या होगा पार्टी का अगला दांव?

गौरतलब है कि नीतीश कुमार बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान जमकर पीएम मोदी के खिलाफ बयानबाजी करते दिखे थे. दोनों की इस आपसी जुबानी जंग में एक दूसरे पर काफी संगीन आरोप लगाए गए थे. ऐसे में अब जब नीतीश कुमार पीएम मोदी के साथ मंच साझा करते हुए उनकी तरफ से लोगों से अपील करेंगे तो बिहार की जनता की प्रतिक्रिया देखने लायक होगी.

UP में सपा-बसपा के साथ आई कांग्रेस तो बीजेपी की होगी शर्मनाक हार- सर्वे

बता दें, महागठबंधन से अलग होने के बाद एनडीए ने जदयू का समर्थन किया था जिसके बाद नीतीश कुमार एक बार फिर बिहार के मुख्यमंत्री बने. अब लोकसभा चुनावों में मोदी-नीतीश का ये मेल क्या रंग लाता है ये देखने लायक होगा.

First published: 24 January 2019, 14:19 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी