Home » इंडिया » PNB scam: ED offers air ambulance to Mehul Choksi to bring him from Antigua, say reports
 

ED ने अदालत से कहा- चोकसी को भारत लाने के लिए एयर एम्बुलेंस भेजने को तैयार

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 June 2019, 13:34 IST

प्रवर्तन निदेशालय ने हीरा व्यापारी मेहुल चोकसी की एंटीगुआ में कथित पंजाब नेशनल बैंक घोटाले की जांच में शामिल होने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है. एजेंसी ने बॉम्बे हाईकोर्ट से चोकसी को जल्द से जल्द भारत लौटने का निर्देश देने का अनुरोध किया है. एएनआई के अनुसार एजेंसी ने कहा कि चोकसी को एंटीगुआ से लाने और उसे भारत में सभी आवश्यक उपचार प्रदान करने के लिए चिकित्सा विशेषज्ञों के साथ एक एयर एम्बुलेंस प्रदान करने के लिए तैयार है.

चोकसी ने भारत में नहीं आने के पीछे खराब स्वास्थ्य का हवाला दिया है. प्रवर्तन निदेशालय ने एक जवाबी हलफनामे में कहा, चोकसी द्वारा दायर हलफनामा जिसमें उसने दावा किया कि वह स्वास्थ्य समस्याओं के कारण भारत लौटने में असमर्थ है, "अदालत को गुमराह करने के लिए है''. चोकसी पर नीरव मोदी के साथ पंजाब नेशनल बैंक से 13,000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप है. जनवरी में उन्होंने एंटीगुआ और बारबुडा में अधिकारियों को अपनी भारतीय नागरिकता और पासपोर्ट सौंप दिया.

 

सोमवार को चोकसी ने बॉम्बे हाईकोर्ट को बताया कि वह मेडिकल जांच के भारत छोड़कर गए थे, न कि कथित घोटाले की वजह से. एजेंसी ने अदालत से चोकसी को आदेश देने की तारीख से एक महीने के भीतर जल्द से जल्द भारत लौटने के इरादे से एक हलफनामा दायर करने को कहा है. प्रवर्तन निदेशालय ने कहा कि चोकसी को पूछताछ में शामिल होने के कई अवसर दिए गए थे, वह शामिल नहीं हुआ.

एजेंसी ने कहा, चोकसी का यह भी दावा भी गलत है जिसमे 6,129 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त करने की बात कही गई है जबकि प्रवर्तन निदेशालय ने 2,100 करोड़ रुपये की संपत्ति अटैच की है. एजेंसी ने कहा कि चोकसी ने कभी भी पूछताछ में सहयोग नहीं किया. गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी होने और इंटरपोल द्वारा रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने के बाद भी उसने लौटने से इनकार कर दिया, "इसलिए वह एक भगोड़ा है.

 क्या SBI अपने एटीएम पर लगने वाले ट्रांजेक्शन चार्ज को ख़त्म करना चाहता है ?

First published: 22 June 2019, 13:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी