Home » इंडिया » police calls for vigil against clashes in jnu post kanhaiya release
 

जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया जेल से रिहा हुए

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 March 2016, 20:35 IST

राजद्रोह के मामले में अभियुक्त जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार आज जेल से रिहा हो गए. दिल्ली हाईकोर्ट ने बुधवार को उन्हें छह महीने की सशर्त अंतरिम जमानत दी थी.

नौ फरवरी को जेएनयू में कथित तौर पर देशद्रोही नारा लगाने के आरोप में दिल्ली पुलिस ने कन्हैया को 12 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था. उनकी रिहाई को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने पहले से ही जेएनयू कैंपस में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं. 

कन्हैया की रिहाई के बाद झड़पों की आशंका के देखते हुए दिल्ली पुलिस की खुफिया विभाग ने सभी जिलों, ट्रैफिक और पीसीआर इकाइयों को निर्देश जारी किया है.

पुलिस ने इस मामले में खासतौर पर जेएनयू के अंदर और आस पास के क्षेत्रों के साथ-साथ दिल्ली यूनिवर्सिटी के कैंपस में सख्त निगरानी का आदेश दिया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक पुलिस के आला अधिकारियों ने अपने निर्देश में कहा है कि छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार जमानत पर बाहर आने के बाद काफी संख्या में अपने समर्थकों के साथ जंतर मंतर, जेएनयू और डीयू जा सकते हैं. इसमें एआईएसएफ और आइसा जैसे छात्र संगठन और कुछ राजनीतिक दलों के सदस्य भी शामिल हो सकते हैं.

निर्देश में इस बात कि भी संभावना जताई गई है कि एबीवीपी और कुछ राजनीतिक दलों सहित अन्य दक्षिणपंथी संगठन इन सभाओं का विरोध कर सकते हैं और इन संगठनों के बीच झड़प होने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है.

इसलिए विषय की संवदेनशीलता और गंभीरता को देखते हुए सख्त निगरानी रखी जाए और स्थानीय पुलिस में पर्याप्त महिला कर्मियों के साथ तैनाती की जाए. पीसीआर, यातायात पुलिस को भी किसी अप्रिय घटना को टालने के लिए मुस्तैद रहने को कहा गया है.

First published: 3 March 2016, 20:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी