Home » इंडिया » Till December 21, more than Rs 3590 crore undisclosed income admitted or detected
 

नोटबंदी के बाद 93 करोड़ नई करेंसी समेत 505 करोड़ जब्त, जानिए 5 बड़ी बातें

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 December 2016, 12:25 IST
(कैच)

8 नवंबर को नोटबंदी के बाद से देशभर में आयकर विभाग के छापों का सिलसिला जारी है. इसमें सबसे सनसनीखेज छापा तमिलनाडु के मुख्य सचिव पी राममोहन राव के घर और दफ्तर पर मारा गया, जिसमें 30 लाख की रकम और पांच किलो सोना बरामद हुआ था. वहीं आयकर विभाग के सूत्रों के मुताबिक 21 दिसंबर तक मारे गए छापों में कुल 505 करोड़ रुपये जब्त हो चुके हैं. एक नज़र पांच बड़ी बातों पर: 

पांच बड़ी बातें

1. नोटबंदी के बाद आयकर विभाग ने 21 दिसंबर तक 505 करोड़ रुपये कैश जब्त किए हैं, इनमें से 93 करोड़ रुपये नई करेंसी में हैं. 

2. आयकर विभाग ने जब्ती और सर्च ऑपरेशन के बाद 400 से ज्यादा मामलों की जांच प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सौंप दी है.

3. इन 400 मामलों में आगे की तफ्तीश के लिए ईडी को 215 और सीबीआई को 185 मामले रेफर किए गए हैं.  

4. 21 दिसंबर तक आयकर विभाग ने छापेमारी के बाद 3590 करोड़ की अघोषित (गुप्त) आय का पता लगाया है.

5. आयकर विभाग ने नोटबंदी के बाद से कुल 3589 नोटिस जारी किए हैं.  

आयकर विभाग ने 21 दिसंबर तक 93 करोड़ रुपये के नए नोट बरामद किए हैं. (कैच)
First published: 23 December 2016, 12:25 IST
 
अगली कहानी