Home » इंडिया » Poster outside Owaisi's house brands him traitor
 

सांसद ओवैसी के बंगले पर लगाए गए 'देशद्रोही' के पोस्टर

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 March 2016, 14:34 IST

एआईएमआईएम पार्टी के प्रमुख और सांसद असदुद्दीन ओवैसी के दिल्‍ली स्थित बंगले पर उन्हें ‘देशद्रोही’ बताने वाले पोस्‍टर लगाए जाने का मामला सामने आया है. दिल्ली पुलिस ने सूचना मिलते ही इन पोस्टरों का हटवा दिया.

इस पोस्‍टर में उनपर कथित तौर पर ‘भारत माता का अपमान’ करने का भी आरोप लगाया गया था. यह पोस्टर सांसद ओवैसी के अशोक रोड स्थित सरकारी बंगले केे गेट के सामने लगा हुआ था.

पढ़ें: 'भारत माता की जय' बोल जावेद अख्तर छा गए

सामाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक कथित तौर पर हिंदू सेना के कार्यकर्ताओं ने रात में सात बजे के करीब यह पोस्टर सासंद ओवैसी के घर के बाहर लगाए.

इस मामले की जानकारी के बाद दिल्ली पुलिस तुरंत हरकत में आई. दिल्ली पुलिस ने तुरंत इस पोस्टर को ओवैसी के घर के बाहर से हटा दिया और मामले की जांच शुरू कर दी.

इस पूरे घटना की जिम्मेदारी लेते हुए हिंदू सेना के अध्यक्ष विष्णु गुप्ता ने कहा कि 'हमारे कार्यकर्ताओं ने ओवैसी के घर के बाहर पोस्टर लगाए क्योंकि वे उनके बयान से खफा हैं. विष्णु गुप्ता ने कहा कि देश में गद्दारों के लिए कहीं भी जगह नहीं होनी चाहिए.'

पढ़ें: मोहन भागवत से बोले ओवैसीः नहीं बोलूंगा भारत माता की जय

दिल्ली पुलिस ने इस बारे में प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि सांसद असदुद्दीन ओवैसी के घर के बाहर लगे पोस्टरों के बारे में हमें सूचना मिली है और हम मामले की जांच कर रहे हैं. 

बता दें कि लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने संसद में कहा था कि वो 'भारत माता की जय' कभी नहीं बोलेंगे. ओवैसी की यह प्रतिक्रिया राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत के उस बयान के बाद आई थी. जिसमें उन्होंने नई पीढ़ी को भारत माता की जयकार करने की जरूरत बताई थी.

पढ़ें: महाराष्ट्र: 'भारत माता की जय' नहीं बोलने पर विधायक पठान सदन से निलंबित

वहीं दूसरी तरफ बुधवार को महाराष्‍ट्र विधानसभा में ओवैसी की पार्टी के विधायक वारिस पठान ने कहा कि वह भारत माता की जय के नारे नहीं लगाएंगे. इसके बाद मचे बवाल के कारण उन्हें विधानसभा से निलंबित कर दिया गया. विधान सभा से बाहर आने के बाद वारिस पठान ने विधान सभा से बाहर 'जय हिन्द, हिन्दुस्तान जिंदाबाद और जय महाराष्ट्र' का नारा लगाया.

First published: 17 March 2016, 14:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी