Home » इंडिया » Posters put up outside Congress office in Lucknow asking Priyanka Gandhi Vadra to lead party in UP
 

पोस्टर: एक सुर हर कांग्रेस जन का, नेतृत्व करो बहन प्रियंका

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 June 2016, 12:15 IST
(एएनआई)

जैसे-जैसे उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव करीब आ रहे हैं कांग्रेस में प्रियंका गांधी को आगे करने की मांग तेज होती जा रही है. एक बार फिर लखनऊ में प्रियंका गांधी के समर्थन में पोस्टर लगे हैं.

वैसे यह पहली बार नहीं है जब कांग्रेस में इस तरह की मांग उठी है. प्रियंका गांधी को यूपी के चुनाव में चेहरा बनाने की कवायद कांग्रेसी कार्यकर्ता लंबे अरसे से कर रहे हैं. लखनऊ में उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी दफ्तर के बाहर प्रियंका के समर्थन में पोस्टर लगाए गए हैं.

पोस्टर में प्रियंका के नेतृत्व में चुनाव लड़ने की मांग करते हुए नारा लिखा गया है, "एक सुर हर कांग्रेस जन का, नेतृत्व करो- बहन प्रियंका." यूपी कांग्रेस कमेटी के सचिव सुभाष श्रीवास्तव की ओर से कांग्रेस दफ्तर के बाहर यह पोस्टर लगाया गया है.

कांग्रेस में प्रियंका गांधी की अगुवाई में चुनाव लड़ने की मांग नई नहीं है. सूत्रों के मुताबिक यूपी चुनाव के लिए प्रमुख रणनीतिकार बनाए गए प्रशांत किशोर ने भी पार्टी को प्रियंका का चेहरा आगे करने की सलाह दी थी, लेकिन कांग्रेस आलाकमान इस पर तैयार नहीं हुआ. 

'बेबस यूपी बचाओ प्रियंका'

हाल ही में कांग्रेस के यूपी प्रभारी नियुक्त किए गए गुलाम नबी आजाद से जब इस सिलसिले में सवाल पूछा गया था, तो उन्होंने उम्मीद जाहिर की थी प्रियंका गांधी सिर्फ रायबरेली और अमेठी तक सीमित न रहकर प्रदेश के बाकी हिस्सों में भी कांग्रेस प्रत्याशियों के समर्थन में प्रचार करेंगी.

पोस्टर में यूपी की कानून व्यवस्था पर भी हमला बोला गया है. पोस्टर में आगे लिखा है, "गुंडों का चहुं ओर है डंका, बेबस यूपी बचाओ प्रियंका."

उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के लिये कांग्रेस पूरी तरह तैयार दिखाई दे रही है. एक तरफ प्रशांत किशोर कांग्रेस के लिए चुनावी समीकरण बना रहे हैं, तो दूसरी तरफ कांग्रेसी कार्यकर्ता बाकायदा इसके लिए सोशल नेटवर्किंग साइट पर कैंपेन चला रहे हैं. 

सोशल मीडिया पर कैंपेन

गांधी परिवार के पैतृक शहर इलाहाबाद में भी कांग्रेस की कमान प्रियंका गांधी को दिए जाने को लेकर फेसबुक पर बाकायदा कैंपेन चलाया जा रहा है.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के इलाहाबाद पहुंचने पर उनके सामने भी कार्यकर्ताओं ने प्रियंका गांधी को सक्रिय राजनीति में उतारने की गुजारिश की थी.

चुनाव में रणनीतिकार के रूप में हायर किए गए प्रशांत किशोर ने भी अपने फीडबैक में कहा है कि सीएम के तौर पर यदि प्रियंका गांधी का नाम आगे किया जाए तो कांग्रेस की संभावना बढ़ जाएगी. यूपी में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं.

First published: 25 June 2016, 12:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी