Home » इंडिया » powerful trying to run the court, they are playing with fire: Justice Arun Mishra
 

CJI मामले पर सुनवाई के दौरान जब कोर्ट रूम हो गया खामोश

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 April 2019, 15:49 IST

भारत के मुख्य न्यायाधीश और सुप्रीम कोर्ट के बचाव में बोलते हुए न्यायाधीश न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा ने कहा कि जो अमीर और शक्तिशाली लोग सोचते है कि वो अदालत को ब्लैकमेल कर सकते हैं, लेकिन उन्हें पता नहीं कि वे आग से खेल रहे होते हैं.

न्यायमूर्ति मिश्रा ने ये बातें वकील उत्सव सिंह बैंस द्वारा दायर हलफनामे पर हुई एक घंटे की सुनवाई के अंत में कही. इस हलफनामे में दावा किया गया था कि उनके पास सीजेआई रंजन गोगोई को बदनाम करने का ऑफर आया था. उन्होंने दावा किया था कि इसके पीछे असंतुष्ट कर्मचारियों और कॉर्पोरेट की एक शक्तिशाली लॉबी है.

बैंस ने कहा कि उनसे अजय नाम के व्यक्ति ने संपर्क किया था, जिसने उन्हें पैसे का लालच दिया था. सीजेआई पर आरोप लगाने वाली पूर्व अदालत की कर्मचारी का रिश्तेदार होने का दावा किया था. जस्टिस मिश्रा ने कहा “इस देश को सच्चाई पता होनी चाहिए. सर्वोच्च न्यायालय को पैसे या राजनीतिक शक्ति द्वारा नहीं चलाया जा सकता है. जब कोई सिस्टम को साफ करने की कोशिश करता है, तो उसे मार दिया जाता है या उसे बदनाम कर दिया जाता है.

सॉलिसिटर जनरल तुषा मेहता ने चीफ जस्टिस के खिलाफ 'साजिश' की एसआईटी (SIT) जांच की मांग की है. अदालत में जस्टिस मिश्रा ने कहा "यह हमारे लिए छोड़ दो ...हम इस देश के अमीर और शक्तिशाली लोगों को बताना चाहते हैं कि तुम आग से नहीं खेल सकते ...जब तुम इस अदालत के साथ खेलते हो तो तुम आग से खेल रहे हो... उन्होंने कहा इस देश के अमीर लोगों को क्या लगता ही लगता है कि वे इस अदालत को चला सकते हैं? ” इस दौरान पूरा कोर्ट रूम खामोश हो गया.

जस्टिस मिश्रा ने कहा "हमें अब और मत भड़काओ ... यह तुम्हारा संस्थान है, हमारा नहीं. हम, न्यायाधीश, आते हैं और जाते हैं. यह फली नरीमन, नानी पालखीवाला और के परासरन जैसे लोगों द्वारा बनाई गई अदालत है ... लेकिन हर दूसरे दिन हम बेंच-फिक्सिंग के बारे में सुनते हैं, हर दिन अदालत में गलत व्यवहार किया जाता है ...जब भी हम एक बड़े मामले की सुनवाई शुरू करते हैं, पत्र लिखे जाते हैं ...जब भी बड़े मामले या बड़े व्यक्ति शामिल होते हैं, तो इस अदालत में ऐसा होता है.

First published: 25 April 2019, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी