Home » इंडिया » Pragya Thakur joins Advisory Committee of Ministry of Defense, opposing Congress
 

प्रज्ञा ठाकुर रक्षा मंत्रालय की सलाहकार समिति में शामिल, कांग्रेस का विरोध

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 November 2019, 12:18 IST

भाजपा लोकसभा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को रक्षा मंत्रालय की संसदीय सलाहकार समिति में नामित किया गया है. मालेगांव विस्फोट मामले में आरोपी रही भोपाल की सांसद ने इस साल लोकसभा चुनावों में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह को हराया था. राष्ट्रीय जांच एजेंसी द्वारा महाराष्ट्र कंट्रोल ऑफ ऑर्गनाइज्ड क्राइम एक्ट के तहत आरोपों के बाद उन्हें अप्रैल 2017 में बॉम्बे हाई कोर्ट ने स्वास्थ्य आधार पर जमानत दे दी थी.

वर्तमान में वह गैरकानूनी गतिविधियों (रोकथाम) अधिनियम के तहत कई आरोपों के मामले में अंडरट्रायल हैं. 21 सदस्यीय संसदीय सलाहकार समिति की अध्यक्षता रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कर रहे हैं. सलाहकार समिति में विपक्षी नेताओं में फारूक अब्दुल्ला और शरद पवार की पसंद भी शामिल हैं. साध्वी प्रज्ञा ने कई बार अपनी विवादित टिप्पणियों के कारण सुर्खियां बटोरी हैं.

 

कांग्रेस पार्टी ने इस पर आपत्ति जताई और इसे दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया. मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार के कानून मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि भाजपा के शब्दों और कार्यों में अंतर है. उन्होंने कहा, "मोदी जी ने कहा था कि जब वह विवादास्पद बयान देंगे तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी. उनके खिलाफ कई आरोप हैं. उन्हें इतनी महत्वपूर्ण समिति का हिस्सा बनाना दुर्भाग्यपूर्ण है."

कांग्रेस गुरुवार को संसद में चुनावी बांड के मामले को उठा सकती है. पार्टी ने आरोप लगाया है कि इस योजना के परिणामस्वरूप मनी लॉन्ड्रिंग हुई और राजनीतिक दलों के वित्तपोषण में पारदर्शिता ख़त्म हो गई. बुधवार को कांग्रेस ने मांग की कि सरकार सदन के समक्ष योजना के बारे में सभी विवरणों का खुलासा करे. विपक्षी दल ने चुनावी बांड को "राजनीतिक रिश्वत योजना" बताया.

दिल्ली: मोदी कैबिनेट ने दी अवैध कॉलोनियों को नियमित करने वाले बिल को मंजूरी

 

First published: 21 November 2019, 11:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी