Home » इंडिया » Pragya Thakur says opposition using marak shakti on BJP leaders death
 

Video: 'मारक शक्ति से हो रही BJP नेताओं की मौत, विपक्ष कर रहा इस्तेमाल'

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 August 2019, 15:10 IST

देश के पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार को दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में इलाज के दौरान निधन हो गया. वह 66 वर्ष के थे. इसके पहले इसी महीने की 6 तारीख को पूर्व विदेश मंत्री और बीजेपी की दिग्गज नेता सुषमा स्वराज का निधन हो गया था. वहीं मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता बाबूलाल गौर का भी इसी महीने निधन हुआ है.

इसके अलावा गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल पर्रिकर और पूर्व प्रधानमंत्री तथा बीजेपी के संस्थापक अटल बिहारी वाजपेयी की मृत्युु भी पिछले एक साल में हो गई है. इन्हीं मौतों को लेकर भोपाल से बीजेपी की वर्तमान सांसद साध्वी प्रज्ञा ने अजीबो-गरीब तर्क दिए हैं. साध्वी प्रज्ञा ने कहा है कि विपक्ष बीजेपी नेताओं के खिलाफ किसी 'मारक शक्ति' का इस्तेमाल कर रहा है. 

भोपाल में पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबुलाल गौर की श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए प्रज्ञा ठाकुर ने यह आशंका जाहिर की. प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि वह जब चुनाव लड़ रही थीं तो एक महाराज उनके पास आए थे और उन्होंने कहा था कि बहुत बुरा समय चल रहा है.

उन महाराज ने साध्वी प्रज्ञा से कहा था कि विपक्ष एक मारक शक्ति का प्रयोग उनकी पार्टी और उसके नेताओं के लिए कर रहा है. महाराज ने साध्वी प्रज्ञा को भी सावधान किया और कहा कि यह भाजपा को नुकसान पहुंचने के लिए किया जा रहा है. साध्वी प्रज्ञा ने बताया कि महाराज ने कहा था कि यह भाजपा के कर्मठ, योग्य और जो पार्टी को संभालते हैं, उन पर असर करेगा.

प्रज्ञा ठाकुर ने बताया कि यह उनको हानि पहुंचा सकता है और वह भी निशाने पर हैं. महाराज ने कहा था कि वह अपने पर ध्यान रखें. प्रज्ञा ठाकुर ने बताया कि उन महाराज की बात तब मैंने इतनी भीड़ में चलते-चलते सुना था और भूल गई थी. आज देखती हूं कि वास्तव में हमारा शीर्ष नेतृत्व सुषमा जी, गौर जी, जेटली जी पीड़ा सहते हुए जा रहे हैं. यह देख मन में आया कि कहीं ये सच तो नहीं.

ठाकुर ने कहा कि यह सच है कि हमारे बीच से हमारा नेतृत्व लगातार जा रहा है. आप भले ही विश्वास करें या ना करें, लेकिन यही सच है और यही हो रहा है. 

First published: 26 August 2019, 15:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी