Home » इंडिया » Pregnant woman from Kerala suspected to have joined Islamic State
 

केरल: आईएस से बेटी को बचाने के लिए मां की मुख्यमंत्री से गुहार

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 July 2016, 15:05 IST
(कैच न्यूज)

केरल से इस्लामिक स्टेट (आईएस) में संदिग्ध रूप से शामिल हुए 17 लोगों में से एक महिला की मां बिंदु ने रविवार को राज्य के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन से मुलाकात कर इस मामले की जांच कराने को कहा है.

मुख्यमंत्री विजयन को एक ज्ञापन सौंपने वाली बिंदु ने कहा कि मुख्यमंत्री ने मुझे बताया कि इस मामले में जांच आगे बढ़ रही है.

बिंदु ने कहा कि उसकी 25 वर्षीय बेटी निमिषा अपने पति के साथ 16 मई को अपने घर आई थी. वह उस वक्त गर्भवती थी. 18 मई को उनकी बेटी ने फोन कर बताया कि वह कुछ काम से श्रीलंका जा रही है. बार बार पूछने पर भी उसने यह नहीं बताया कि वह कहां से फोन कर रही है. 

उन्होंने कहा, "चार जून तक मुझे संदेश मिला करते थे, लेकिन इसके बाद बेटी के बारे में कोई सूचना नहीं है."

बिंदु ने कहा कि उसकी बेटी निमिषा जब एक ईसाई युवक से मिली और उससे 2015 में शादी की, उस वक्त वह कासरगोड में डेंटल (बीडीएस) की अंतिम वर्ष की छात्रा थी. बाद में निमिषा ने अपने पति के साथ धर्म परिवर्तन कर लिया.

निमिषा की मां ने साथ ही बताया कि उन्हें निमिषा के पति के बारे में ज्यादा नहीं पता है. केवल इतना पता है कि वह 32 साल का है और उसने एमबीए किया है. 

इसके अलावा कासरगोड़ से पांच और परिवारों ने पुलिस में अपने परिवार के लड़कों के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई है. इस बीच, कांग्रेस नेता और राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला ने सरकार से लापता लोगों के बारे में पता करने की गुजारिश की है.

चेन्निथला ने बताया, "यह नहीं कहा जा सकता कि लापता हुए सभी लोगों ने आईएस ज्वाइन कर लिया है. राज्य और केंद्रीय एजेंसियों ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है.

First published: 11 July 2016, 15:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी