Home » इंडिया » Prime Minister Narendra Modi salutes Indian Air Force on their 84th anniversary
 

84वें स्थापना दिवस पर वायुसेना ने दिखाई ताक़त, एयर चीफ मार्शल बोले- हर खतरे से निपट लेंगे

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 October 2016, 11:05 IST
(पीटीआई)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 अक्टूबर को वायु सेना की 84वीं वर्षगांठ पर जवानों और उनके परिवार वालों को बधाई दी. 

प्रधानमंत्री मोदी ने एयरफोर्स के जवानों के साथ अपनी एक फोटो ट्वीट कर कहा कि एयरफोर्स डे के मौके पर मैं अपने जवानों और उनके परिवार को सैल्यूट करता हूं. हमारे आसमान की सुरक्षा की लिए मैं आप लोगों को धन्यवाद देता हूं. आपकी ताकत भारत को गौरवांवित कराती है.

इस मौके पर गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पर परेड का आयोजन किया जा रहा है. इस दौरान हिंडन एयरबेस पर वायुसेना प्रमुख अरूप राहा को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया. परेड में लड़ाकू विमान, ट्रांसपोर्ट विमान और हेलीकॉप्टर फ्लाइ पास्ट में हिस्सा ले रहे हैं. पहली बार फ्लाई-पास्ट में स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस भी शिरकत कर रहा है.

'हर खतरे से निपटने को तैयार'

परेड के साथ-साथ लड़ाकू विमान, ट्रांसपोर्ट विमान और हेलीकॉप्टर फ्लाई पास्ट में हिस्सा ले रहे हैं. इस समारोह में थल सेना प्रमुख दलवीर सिंह और मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर भी मौजूद हैं.

भारतीय वायुसेना (आईएएफ) के प्रमुख एयर चीफ मार्शल अरुप राहा ने कहा कि आईएएफ किसी भी तरह की चुनौती से उचित तरीके से निपटने के लिए तैयार है.

साथ ही अरुप राहा ने कहा, "हमें खतरों से निपटने के लिए बड़े सुधार करने होंगे. ताकत बढ़ाने के लिए कई बड़े फैसले लिए गए हैं. 120 तेजस विमानों का ऑर्डर दिया गया है. अगले कुछ साल में 36 राफेल विमान भी एयर फोर्स को मिल जाएंगे."

एयर शो की शुरुआत आकाश गंगा टीम के स्काई ड्राइवर द्वारा तिरंगे की रंगों वाला पैराशूट से हुई. इसे लेकर स्काई ड्राइवर आसमान में उड़ते दिखे. 

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने भारतीय वायुसेना की 84वीं वर्षगांठ की पूर्व संध्या के अवसर पर एयरफोर्स को बधाई देते हुए कहा कि राष्ट्र को वायु सेना की क्षमता और दक्षता पर गर्व है. आधुनिकीकरण के फलस्वरूप यह भविष्य की चुनौतियों से निपटने में सक्षम सामरिक बल बनेगा

First published: 8 October 2016, 11:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी