Home » इंडिया » Principle used casteist Comments against Teacher in Front of Children
 

प्रिंसिपल ने बच्चों के सामने दलित शिक्षक पर की 'जातिगत' टिप्पणी, शिक्षक को लगा सदमा

न्यूज एजेंसी | Updated on: 17 October 2019, 18:40 IST
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के बिलगांव स्थित राजकीय इंटर कॉलेज में कार्यरत जिस शिक्षक को कथित जातिगत टिप्पणी से सदमा लगा, उनकी तबीयत मंगलवार रात और बिगड़ जाने के बाद गुरुवार को उनका इलाज केजीएमयू के मानसिक चिकित्सा विभाग में शुरू हुआ है. किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) लखनऊ के मानसिक चिकित्सा विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. पवन कुमार ने बताया कि यहां बांदा के शिक्षक भूपेंद्र कुमार का उपचार गुरुवार से शुरू किया गया है, उन्हें कोई सदमा लगा है. अभी दो हफ्ते की दवा दी गई है और उन्हें आराम की जरूरत है.

बांदा जिला अस्पताल के चिकित्सक डॉ. अभिनव ने बताया,'राजकीय इंटर कॉलेज बिलगांव के अंग्रेजी के विषय के शिक्षक भूपेंद्र कुमार की तबीयत मंगलवार रात और ज्यादा बिगड़ गई, उन्हें बुधवार सुबह रेफर कर एंबुलेंस से लखनऊ पहुंचाया गया है. जहां किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज में उनका उपचार चल रहा है.'

चिकित्सक ने बताया कि शिक्षक को उच्च रक्तचाप की शिकायत पर सोमवार की दोपहर यहां भर्ती कराया गया था, लेकिन स्वास्थ्य में कुछ सुधार होने पर रात में छुट्टी दे दी गई थी, लेकिन मंगलवार की शाम दोबारा भर्ती होने पर लखनऊ रेफर किया गया.

दलित शिक्षक ने सोमवार को अपने ही विद्यालय के प्रभारी प्रिंसिपल पर 'जातिगत' टिप्पणी कर बच्चों के सामने अपमानित करने का कथित आरोप लगाया था. बताया गया है कि अपमान से उन्हें सदमा लगा, जिस कारण उनकी तबीयत खराब हो गई. प्रिंसिपल आशीर्वाद सिंह शिक्षक के आरोपों को पहले ही बेबुनियाद बता चुके हैं.

ऑड-ईवन के उल्लंघन पर 4000 रुपये जुर्माना, दोपहिया वाहनों को राहत

First published: 17 October 2019, 18:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी