Home » इंडिया » Protest against CAA: Section 144 imposed in Shaheen Bagh heavy security forces deployed in the entire area
 

शाहीन बाग में लगाई गई धारा-144, पूरे इलाके में भारी सुरक्षाबल तैनात

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 March 2020, 11:11 IST

Shaheen Bagh Protest: दिल्ली (Delhi) के उत्तर-पूर्वी इलाके (North-East Area) में हुई हिंसा (Violence) के बाद अब हालात सामान्य होने लगे हैं. लेकिन यहां अभी भी धारा-144 (Section 144) लागू है. इस इलाके में अब अधिकतर दुकानें (Shops) खुलने लगी है और लोग घरों (Homes) से बाहर भी निकल रहे हैं. इस हिंसा को देखते हुए शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में भी सुरक्षा (Security) बढ़ा दी गई है. यहां चल रहे विरोध प्रदर्शन (Protest) के बीच धारा 144 लगा दी गई है. गौरतलब है कि शाहीन बाग में पिछले साल 15 दिसंबर (15th December) से महिलाएं नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में प्रदर्शन कर रही है.

पुलिस ने शाहीन बाग में एक बैनर लगाया है, जिसमें आईपीसी की धारा 144 लागू होने की सूचना है. इस बैनर में साफ लिखा हुआ है कि इस क्षेत्र में किसी तरह का प्रदर्शन करने या एकत्रित होने की अनुमति नहीं है. उल्लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई करने की बात कही गई है.

बता दें कि शाहीन बाग में भारी संख्या में पुलिस तैनात कर दी गई है. साथ ही पुलिस वहां बैठे प्रदर्शनकारियों से विरोध खत्म कर रास्ता खाली करने की अपील कर रही है. भारी सुरक्षा बलों की तैनाती को लेकर शाहीन बाग संयुक्त आयुक्त डीसी श्रीवास्तव ने कहा कि एहतियात के तौर पर यह कदम उठाया गया है. हमारा उद्देश्य है कि कानून और व्यवस्था बनी रहे और किसी तरह की अप्रिय घटना न हो.

उन्होंने कहा कि शाहीन बाग में धारा 144 लागू है और इलाके में भारी सुरक्षाबल तैनात कर दिया गया है. बता दें कि दो महीने से ज्यादा समय से नागरिकता कानून और एनआरसी के विरोध में यहां प्रदर्शन चल रहा है. बीच रविवार सुबह अचानक शाहीन बाग में सुरक्षा कड़ी कर दी गई. साथ ही भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है.

दिल्ली हिंसा: दंगाइयों ने जला दिया था कांस्टेबल मोहम्मद अनीस का घर, अब BSF कराएगी मरम्मत

Video: फ्लाइट में उड़ान के दौरान घुसे कबूतर, यात्रियों ने देखा तो उड़ गए होश

निर्भया के दोषी अक्षय का नया पैंतरा, फांसी से 3 दिन पहले दोबारा से लगाई दया याचिका

First published: 1 March 2020, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी