Home » इंडिया » pulwama attack defence minister to meet today with three services chiefs and defence attaches
 

पुलवामा अटैक: आज रक्षा मंत्री की सेना प्रमुखों के साथ बैठक, क्या पाक के साथ होगा कुछ बड़ा?

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 February 2019, 11:06 IST

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पुलवामा हमले को लेकर बड़ी बैठक करने वाली है. रक्षा मंत्री हमले में शामिल आतंकवादियों को पाकिस्तानी समर्थन को लेकर थल सेना, वायु सेना और नौसेना के प्रमुख की भारतीय दूतावास के अधिकारियों के साथ बैठक दो दिनों तक करेंगी. 

खबरों के मुताबिक, इस बैठक में पाक सीमा पर हालात सहित कई मुद्दों पर चर्चा होगी. इसके साथ ही सरकार कुछ अहम सुरक्षा चुनौतियों को लेकर अधिकारियों से प्रतिक्रिया लेगी. बैठक में भारत चीन सीमा की स्थिति के साथ-साथ भारत के पड़ोस से जुड़े भू रणनीतिक मुद्दों पर भी चर्चा संभव है. इसके अलावा बैठक में अमेरिका, रूस और अन्य मित्र देशों सहित दुनिया के महत्वपूर्ण देशों के साथ संबंधों पर विस्तृत चर्चा होगी. सैन्य संबंधों पर अपने विचार रखने के लिए विदेश मंत्रालय के प्रतिनिधि भी बैठक में शामिल होंगे.

पुलवामा हमले  के बाद दुनिया के ज्यादातर देश भारत के समर्थन में खड़े हुए हैं. अमेरिकी और फ्रांस जैसे देशों ने भारत का समर्थन करते हुए कहा कि वह आतंकवाद के खिलाफ लड़ने के लिए भारत के साथ हैं.

ट्रंप ने कहा था भारत कुछ बड़ा सोच रहा है

कुछ दिन पहले अमेरिकी राष्ट्पति डोनाल्ड ट्रंप ने ओवल ऑफिस में मीडिया से कहा था, "फिलहाल भारत और पाकिस्तान के बीच बहुत-बहुत बुरी परिस्थिति है. एक बहुत ही खतरनाक परिस्थिति है. हम देखना चाहते हैं कि युद्धस्थिति कब खत्म होगी. बहुत सारे लोगों अभी मारे गए हैं. हम बस इसे रुकते हुए देखना चाहते हैं. हम इस प्रक्रिया में शामिल हैं."

उन्होंने कहा था, 'भारत कुछ महत्वपूर्ण करने की सोच रहा है . भारत ने हमलों में अभी तक 50 लोगों को खो दिया है . मैं इसे समझ सकता हूं .' उन्होंने कहा, 'हम बात कर रहे हैं . बहुत सारे लोग बात कर रहे हैं . यह एक बहुत ही नाजुक संतुलन होने वाला है . जो अभी हुआ है उसकी वजह से भारत और पाकिस्तान के बीच बहुत सारी परेशानियां हैं .' अमेरिका के राष्ट्रपति ने कहा कि अमेरिका के पाकिस्तान के साथ रिश्ते पहले से काफी बेहतर हुए हैं. पाकिस्तान के नेताओं और अधिकारियों के साथ बैठक पर काम चल रहा है .

इस दौरान ट्रंप ने पाकिस्तान को आड़े हाथों लिया और कहा पाकिस्तान ने अमेरिकी मदद का गलत फायदा उठाया है.  पाकिस्तान को दी जाने वाली 1.3 बिलियन डॉलर की मदद तत्काल प्रभाव से रोक दी है.

 

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद भी कर चुका है निंदा

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) के सदस्य देशों ने भी पुलवामा में हुए आतंकी हमले की कड़ी शब्दों में निंदा की और इस हमले को सदस्य देशों ने घृणित और कायराना हरकत बताई. भारत के प्रस्ताव पर UNSC के P5 देशों (स्थाई सदस्यों) और 10 अस्थाई सदस्यों ने इस हमले की निंदा की. इमके स्थाई देशों में चीन भी शामिल है.

पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए. हमले के कुछ घंटों बाद ही पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इसकी जिम्मेदारी ली.

CRPF सहित अर्धसैनिक बलों को मोदी सरकार का सबसे बड़ा तोहफा, वेतन में की भारी बढ़ोतरी

First published: 25 February 2019, 8:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी